रांची, जेएनएन। हजारीबाग लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा पांचवें चरण के लोकसभा चुनाव में देश के तीसरे सबसे धनी उम्मीदवार हैं। नेशनल इलेक्शन वाच (एनईडब्ल्यू) और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्‍स (एडीआर) की रिपोर्ट के अनुसार शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी और लखनऊ से समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी पूनम सिन्हा 193 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति के साथ पहले नंबर पर हैं।

सीतापुर से प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के उम्मीदवार विजय कुमार मिश्रा इस सूची में दूसरे नंबर पर हैं। उनकी कुल संपत्ति 177 करोड़ रुपये से भी अधिक की है। जयंत सिन्हा की कुल संपत्ति 77 करोड़ रुपये से भी अधिक है। छह मई को होने वाले पांचवें चरण के चुनाव में कुल 674 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं। पांचवें चरण के कुल 668 उम्मीदवारों में से 184 उम्मीदवारों की संपत्ति एक करोड़ रुपये या इससे ज्यादा है। इनमें से ज्यादातर प्रत्याशी भाजपा से हैं।

बाबूलाल मरांडी पर सर्वाधिक 10 मामले लंबित
द्वितीय चरण में जिन उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना है, उनमें रांची, खूंटी, हजारीबाग व कोडरमा संसदीय सीट के उम्मीदवार शामिल हैं। इन उम्मीदवारों में झाविमो के प्रत्याशी बाबूलाल मरांडी पर सर्वाधिक 10 मामले लंबित हैं। दस्तावेज के अनुसार रांची में कांग्रेस प्रत्याशी सुबोध कांत सहाय तथा निर्दलीय प्रत्याशी राजू महतो पर एक-एक अपराधिक मामले दर्ज हैं।

खूंटी में भारतीय अल्पसंख्यक सुरक्षा महासंघ के प्रत्याशी नील जस्टिन बेक के विरुद्ध तीन मामले दर्ज हैं। वहीं, कोडरमा में झाविमो प्रत्याशी बाबूलाल मरांडी के विरुद्ध दस, सीपीआइएमएल के राजकुमार यादव के विरुद्ध चार, राष्ट्रीय जनसंघर्ष स्वराज पार्टी के अजय कृष्णा के विरुद्ध दो, मूल निवासी समाज पार्टी के प्रत्याशी ब्यास कुमार तथा बसपा के सरफराज अहमद के विरुद्ध एक-एक मामले लंबित हैं।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप