गांधीनगर, जेएनएन। गुजरात में भाजपा ने एक बार फिर सभी 26 सीटों पर अपना दबदबा कायम रखा है। गांधीनगर, सूरत, वडोदरा व नवसारी में भाजपा प्रत्यााशियों ने पांच लाख से भी अधिक मतों से जीत दर्ज की है। भाजपा अध्यक्ष शाह ने रिकार्ड 5 लाख 56 हजार मतों से जीत दर्ज की है।

भाजपा ने गुजरात में दूसरी बार सभी 26 सीटों पर कब्जाा जमाया है, 2014 के लोकसभा चुनाव में भी पार्टी ने इन सीटों को जीत लिया था। भाजपा ने अपने चार विधायकों को चुनाव मैदान में उतारा, वहीं कांग्रेस के आठ विधायक चुनाव लड़ रहे थे। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गांधीनगर सीट से करीब पौने चार लाख से चुनाव जीतने का वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी का रिकार्ड तोड़ दिया। भाजपा अध्यक्ष शाह ने अपने नामांकन से पहले रोड शो के दौरान ही गांधीनगर सीट पर रिकार्ड मतों से जीत का दावा किया था। उनके नामांकन व रोड शो में भाजपा के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, एनडीए के करीबी सहयोगी व शिवसेना के कार्यकारी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे, शिरोमणी अकाली दल के नेता व पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, लोक जनशक्ति पार्टी के नेता रामविलास पासवान जैसे दिग्गज भी मौजूद रहे थे।

नवसारी से सीआर पाटिल ने गुजरात में सबसे अधिक अंतर 5 लाख 87 हजार मतों से चुनाव जीता है। वहीं, पिछली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वडोदरा सीट से लोकसभा उपचुनाव जीतने वाली रंजन भट्ट ने एक बार फ‍िर करीब सवा पांच लाख मतों से जीत दर्ज कर ली है। सूरत से दर्शना जरदोश 5 लाख 48 हजार मतों से पुन- विजेता हुई हैं। भाजपा की इस प्रचंड आंधी में कांग्रेस के कई दिग्गज धराशाई हो गए। इनमें पूर्व केंद्रीय मंत्री भरत सिंह सोलंकी आणंद से, पूर्व केंद्रीय मंत्री तुषार चौधरी बारडोली से, नेता विपक्ष परेश धनाणी अमरेली से, पूर्व सांसद जगदीश ठाकोर पाटण से। आदिवासी नेता रंजीत राठवा छोटा उदेपुर से तथा वी के खांट पंचमहाल सीट पर धराशाही हो गए।

एक मुस्लिम प्रत्याचशी भी हारा
गुजरात की 26 लोकसभा सीटों में से एक भरुच सीट पर एक मात्र मुस्लिम नेता शेरखान मैदान में थे। कांग्रेस ने भारतीय ट्राइबल पार्टी से गठबंधन नहीं करके अपने उम्मीदवार के रूप में उनहें खड़ा किया था, लेकिन वे भाजपा के मनसुख वसावा से 2 लाख 22 हजार मतों से चुनाव हार गए।

गुजरात में लोकसभा चुनाव के साथ चार विधानसभा सीट पर भी उपचुनाव कराया गया था। इनमें ऊंझा, ध्रांगध्रा, माणावदर व जामनगर ग्रामीण सीट के विधायकों के इस्तीनफा दिए जाने के चलते यह चुनाव हुआ। अब तक के रुझानों में चारों सीट पर भाजपा उम्मीिदवार आगे रहे, वहीं जामनगर ग्रामीण से भाजपा प्रत्या शी विजेता घोषित कर दिए गए हैं। ऊंझा से डॉ आशा पटेल भाजपा प्रत्यााशी हैं वहीं माणावदर से राज्या के केबिनेट मंत्री जवाहर चावडा चुनाव लड़े हैं। 

जानें, किसने क्या कहा

ये मोदी लहर नहीं मोदी सुनामी थी, देश का यह मानस बन गया था कि देश किसके हाथ में सलामत है। देश को सुरक्षित कौन बनाएगा, मोदी। मजबूत सरकार कौन देगा, मोदी। भारत की जनता ने भाजपा व मोदी को ऐतिहासिक बहूमत देकर एक रिकार्ड बना दिया है।
विजय रूपाणी, सीएम, गुजरात सरकार।
----
नरेंद्र मोदी की जीत और पीएम के रूप में दोबारा ताजपोशी की तैयारी के बीच परिवार में आनंद का माहौल है। वहीं, गत दिनों परिवार का एक सदस्य को खोने का शोक भी है। देश की जनता ने जो मत व समर्थन दिया है, उसके लिए पूरे परिवार की ओर से खूब आभार व धन्यवाद। 
-प्रहलाद मोदी,पीएम मोदी के छोटे भाई। 

पीएम मोदी की मां ने जताया आभार, दिया आशीर्वाद 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन ने अपने घर से बाहर निकलकर जनता का अभिवादन कर आशीर्वाद दिया।
गांधीनगर के रायसण गांव में हीराबेन अपने छोटे बेटे पंकज मोदी के साथ रहती हैं। गुजरात दौरे के वक्त पीएम मोदी यदा कदा मां का आशीर्वाद लेने रायसण स्थित भाई के घर जाते हैं। लोकसभा चुनाव 2019 के रुझानों में एक बार फिर बेटे नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार बनते व बेटे को दोबारा प्रधानमंत्री के रूप में चुनने के लिए हीराबेन खुद जनता का आभार जताने को आगे आई। उन्होंने घर से बाहर निकलकर जनता का अभिवादन किया। साथ ही, दोनों हाथ उठाकर देश की जनता को आशीर्वाद भी दिया।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप