रांची, [जागरण स्‍पेशल]। Jharkhand Assembly Election 2019 भाजपा से बगावत कर झारखंड के मुख्‍यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ चुनावी मैदान में ताल ठोकने वाले बागी मंत्री सरयू राय को अंदर-बाहर से लगातार समर्थन मिल रहा है। पहले विपक्षी दलों ने डोरे डाले, झामुमो के कार्यकारी अध्‍यक्ष हेमंत सोरेन खुलकर सामने आए तो अब भाजपा नेता भी सरयू के लिए हिमायती बोल बोल रहे हैं। गोड्डा के सांसद निशिकांत दुबे ने लिखा...

जानता हूँ एक ऐसे शख्स को मैं भी 'मुनीर',

ग़म से पत्थर हो गया लेकिन कभी रोया नहीं।

~ Munir Niazi 

गोड्डा के सांसद निशिकांत दूबे ने  सरयू राय के साथ अपनी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर डाली है। इसके साथ उन्होंने मुनिर नियाजी का एक शेर लिखा है। सरयू राय ने मुख्यमंत्री रघुवर दास के साथ ताल ठोककर झारखंड विधानसभा चुनाव को रोमांचक बना दिया है। इन्हें प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष तौर पर भाजपा के अनेक कद्दावर नेताओं का समर्थन मिल रहा है।

सरयू राय पर सीधी टिप्पणी से बच रही भाजपा

बगावती सरयू राय ने भले ही भाजपा पर सधा हुआ हमला किया है बावजूद इसके पार्टी नेता सरयू राय पर किसी भी तरह की सख्त टिप्पणी से बच रहे हैं। तमाम शीर्ष नेताओं ने पल्ला झाड़ रखा है। इधर, भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने बस इतना कहा कि किसी व्यक्ति विशेष की उम्मीदवारी पर टिप्पणी करना भाजपा के राजनीतिक संस्कार में नहीं है। भाजपा अपने आधिकारिक और समर्थित उम्मीदवारों को जिताने के लिए पूरे दम खम से चुनाव लड़ेगी। जन आकांक्षाओं के अनुरूप भाजपा झारखंड में स्थायी सरकार और विकास के मुद्दे पर रघुवर दास के नेतृत्व में 65 प्लस के लक्ष्य को पार करेगी।

सरयू राय से आजसू को भी हमदर्दी

सरयू राय एक सम्मानित नेता हैं और हमेशा झारखंड के विकास की सोचते हैं। उनके निर्दलीय चुनाव लडऩे की बात है तो यह उनका निजी फैसला है। जहां तक उन्हें समर्थन देने की बात है तो पार्टी देखेगी कि वे झारखंड के विषयों और यहां के मुद्दों को लेकर किस तरह जनता के बीच जाते हैं। सुदेश महतो, केंद्रीय अध्यक्ष, आजसू।

यह खबर लगातार अपडेट हो रही है। ताजा जानकारी के लिए बने रहें हमारे साथ...

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप