कुरुक्षेत्र, [विनोद चौधरी]। Haryana Assembly Election 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कुरुक्षेत्र रैली का जीटी रोड बेल्‍ट मेें काफी असर पड़ेगा। मंगलवार को गीता की धरा पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जीटी रोड बेल्ट की 27 सीटों पर असर छोड़ गए। मोदी ने कहा कि यही वह धरा है जिसने लोकसभा चुनाव मे वोटों से भाजपा की झोली भर दी थी।

 साल 2014 की 47 सीटों में इसी बेल्ट से मिली थी भाजपा को 22 सीट

विधानसभा चुनाव में भी बहुमत से आश्वास्त प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार प्रचंड बहुमत चाहिए। यहां की जनता भाजपा को ज्यादा से ज्यादा वोट देकर रिकार्ड बनाएगी। वह कुरुक्षेत्र, करनाल और अंबाला विधानसभा क्षेत्र में 27 सीटों पर खड़े प्रत्याशियों के समर्थन में वोट की अपील करने पहुंचे थे।

खास बात यह है कि पिछले चुनाव में भी इन सीटों में से 22 पर भाजपा ने ही जीत दर्ज करवाई थी। भाजपा की कुल 47 सीटों में से 22 इसी बेल्ट से मिली थी। इस बार भी भाजपा इसी जीटी बेल्ट पर अपना वर्चस्व कायम रखना चाहती है। रैली में 19 सीटों के प्रत्याशी मंच पर नरेंद्र मोदी के साथ मौजूद रहे।

पिछले चुनाव में भी अंबाला लोकसभा से अंबाला कैंट, अंबाला शहर, मुलाना और नारायणगढ़ की सभी सीटें भाजपा के पास थी। यमुनानगर, जगाधरी, साढौरा और रादौर सीट के अलावा कुरुक्षेत्र की थानेसर, लाडवा और शाहाबाद पर भी जीत दर्ज की थी, जबकि पिहोवा इनेलो के खाते में गई थी।

कैथल से कांग्रेस, पूंडरी और कलायत से आजाद प्रत्याशी ने जीत दर्ज करवाई थी और गुहला से भाजपा को जीत मिली थी। इसी तरह करनाल के इंद्री, असंध, घरौंड़ा और नीलोखेड़ी की सीट भाजपा ने जीती थी। इस बार भाजपा ने इन सभी सीटों पर जीत दर्ज करवाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया है।

कुरुक्षेत्र की पिहोवा सीट को हासिल करने के लिए अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी संदीप सिंह को मैदान में उतारा गया है। इन सीटों पर बढ़त बनाने के लिए ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली कुरुक्षेत्र में रखी गई और सभी सीटों के प्रत्याशियों को बुलाकर उन्हें आशीर्वाद दिलवाया गया।

यह भी पढ़ें: PM Narendra Modi in Haryana: पाक पर होगा अब पानी का 'सर्जिकल स्‍ट्राइक', कहा-राष्‍ट्र सुरक्षा के लिए उठाते रहेंगे कदम

प्रत्याशियों की कमल साधना

रैली में खास बात यह रही कि प्रधानमंत्री ने लगभग 37 मिनट के भाषण में पार्टी प्रत्याशियों के लिए वोट मांगे। इस दौरान मंच पर बैठे सभी प्रत्याशी हाथों में कमल का फूल लिए बैठे रहे। कई बार थकावट से थोड़ा फूल नीचे जाता तो दोबारा फिर प्रत्याशी इसे संभाल पर ऊपर कर लेते थे।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


यह भी पढ़ें: साईं मंदिर का दान पात्र खोला तो कमेटी के मेंबर रह गए दंग, निकले ऐसे नोट

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप