नई दिल्ली [निहाल सिंह]। Delhi Assembly Elections 2020: दक्षिणी दिल्ली की कस्तूरबा नगर विधानसभा सीट पर अब तक सभी प्रमुख दलों के प्रत्याशी चुनाव जीत चुके हैं। ऐसे में इस सीट पर मतदाता किसके गले में जीत का हार पहनाएंगे कुछ भी कहा नहीं जा सकता है। कांग्रेस ने इस सीट पर युवा नेता और एंड्यूजगंज से दूसरी बार पार्षद बने अभिषेक दत्त को उतारा है, जो इस विधानसभा क्षेत्र की गलियों में पसीना बहाकर विधायक बनने के लिए किस्मत आजमा रहे हैं।

वर्ष 1993 से लेकर 2003 तक यह सीट भाजपा के कब्जे में रही तो 2008 में क्षेत्र के लोगों ने कांग्रेस को मौका दिया। वर्ष 2013 और 2015 के विधानसभा चुनाव में आप प्रत्याशी ने यहां जीत दर्ज की थी। चुनाव की घोषणा से कई माह पहले से अभिषेक दत्त इस क्षेत्र में सक्रिय हैं। वह 2012 में पहली बार पार्षद बने और 2017 में फिर जीत दर्ज की। 2013-14 में कांग्रेस ने उन्हें महापौर पद का प्रत्याशी भी बनाया था। कई दिग्गजों के इस चुनाव में धराशायी होने के बाद दक्षिणी निगम में पार्टी ने उन्हें कांग्रेस दल का नेता बना दिया था। आरडब्ल्यूए व संस्थाओं से उनका जुड़ाव रहा है।

छात्र राजनीति में भी सक्रिय रहे अभिषेक दत्त

छात्र जीवन से ही वह राजनीति में सक्रिय रहे और वर्ष 1997-1998 में दिल्ली विश्वविद्यालय में सेंट्रल काउंसलर बने थे। वर्ष 1998-99 में वह शहीद भगत सिंह कॉलेज के सचिव बने। इसके बाद कांग्रेस की छात्र इकाई भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआइ) के दिल्ली प्रदेश के सचिव से लेकर महासचिव और उपाध्यक्ष तक के पद पर रहे। वह दिल्ली विश्वविद्यालय के शहीद सुखदेव कॉलेज ऑफ बिजनेस स्टडीज की गवर्निग बॉडी के चेयरमैन भी रह चुके हैं। उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से बैचलर ऑफ आर्ट और मार्केटिंग में एमबीए की है।

बता दें कि दिल्ली की सभी 70 सीटों पर विधानसभा चुनाव 8 फरवरी को होगा। मतगणना 11 फरवरी को होगी। इस समय सभी प्रत्याशी चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं। 

 ये भी पढ़ेंः   Delhi Assembly Elections 2020 : हुक्के की गुड़गुड़ाहट के बीच तय होगी शह-मात

 Delhi Election 2020 : बदहाल स्कूलों पर अपनी नाकामी छिपा रहे हैं सीएम केजरीवालः भाजपा

 

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस