नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दावा किया है कि कनॉट प्लेस में चार दिन तक चलने वाले लेजर शो की वजह से इस साल दिवाली पर 40 फीसद प्रदूषण कम हुआ। बुधवार को उन्होंने कहा कि यह आयोजन बहुत सफल रहा है। इससे 40 फीसद तक प्रदूषण कम हुआ है। क्योंकि अगर लेजर शो न होता तो ये लोग पटाखे जलाते और तीस से चालीस फीसद प्रदूषण और बढ़ जाता।

केजरीवाल ने कहा कि इस आयोजन की सफलता के लिए सबसे अधिक धन्यवाद मैं उपराज्यपाल को देता हूं। उनका बहुत सहयोग मिला। उनकी वजह से सभी एजेंसियां मन से लग गईं। आयोजित सफल हो पाया। बता दें कि दिल्ली में प्रदूषण एक मुद्दा बन चुका है। विपक्ष इसे विधानसभा चुनाव में उठा भी सकता है। 

हरियाणा में पराली जलाने से रोका जाए

सीएम ने भाजपा से मांग की कि हरियाणा सरकार से कहें कि पराली वहां न जलाई जाए। आज केवल दिल्ली में ग्रेप का पालन हो रहा है। एक नवंबर से मास्क बांटे जाएंगे। सरकारी और प्राइवेट दोनों तरह के स्कूलों में मास्क बांटे जाएंगे। प्रत्येक बच्चे को 2 मास्क बांटे जाएंगे।

वहीं उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि उद्यमिता करिकुलम के तहत 11 वीं और 12 वीं के बच्चे बिजनेस प्लान बनाएंगे। इसके लिए बुधवार को आदेश हो गए हैं। जिसमें प्रत्येक बच्चे को एक हजार रुपया दिया जाएगा।

दिल्ली सरकार ने कनॉट प्लेस में कराया लेजर शो 

बता दें कि दिल्ली सरकार ने दिवाली के अवसर पर कनॉट प्लेस इलाके में लेजर शो का आयोजन कराने का फैसला किया था। उपराज्यपाल ने इसका शुभारम्भ किया था। केजरीवाल ने लोगों से इस लेजर में आकर दिवाली मनाने का आग्रह किया था। उनका कहना था कि लोग दिवाली पर पटाखे ना जलाएं वे दिल्ली सरकार के साथ मिलकर बिना पटाखे वाली दिवाली मनाएं। हालांकि व्यापारियों ने इस यह कहते हुए विरोध किया था कि इससे उनका कारोबार खराब होगा। जबकि सरकार ने व्यापारियों की आपत्तियों को खारिज कर दिया था। 

ये भी पढ़ेंःदिल्ली के 80 हजार टैक्सी चालकों को बड़ी राहत, केजरीवाल सरकार ने जारी की अधिसूचना

DTC बसों में बुजुर्गों और छात्रों को भी मिल सकता है फ्री में सफर का मौका, सीएम ने दिए संकेत

  दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस