Move to Jagran APP

Video: देखें टीकरी बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस लगातार कैसे बढ़ा रही सुरक्षा के इंतजाम

दिल्ली की तीन सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन को लेकर दिल्ली पुलिस अभूतपूर्व सुरक्षा इंतजाम करने में लगी हुई है। दिल्ली पुलिस के सुरक्षा इंतजामों को देखकर देश ही दुनिया के तमाम देशों में चर्चाएं हो रही हैं। यूपी गेट पर पुलिस ने 12 लेयर में सुरक्षा की है।

By Vinay Kumar TiwariEdited By: Wed, 03 Feb 2021 07:06 PM (IST)
टीकरी बॉर्डर पर सुरक्षा के इंतजामों में लगातार किया जा रहा इजाफा।

नई दिल्ली, एएनआइ। दिल्ली की तीन सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन को लेकर दिल्ली पुलिस अभूतपूर्व सुरक्षा इंतजाम करने में लगी हुई है। दिल्ली पुलिस के सुरक्षा इंतजामों को देखकर देश ही दुनिया के तमाम देशों में चर्चाएं हो रही हैं।

कोई कह रहा है कि सरकार को ऐसी बेरिकेंडिंग पाकिस्तान से लगी सीमा पर करनी चाहिए तो कोई कह रहा है कि सुरक्षा का ऐसा इंतजाम इससे पहले कभी नहीं देखा गया। सिंघु बॉर्डर और यूपी गेट बॉर्डर पर तो सुरक्षा इंतजामों को देखकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने यहां तक कह दिया कि सरकार को पुल बनाने चाहिए दीवार नहीं। दरअसल यूपी गेट पर पुलिस ने 12 लेयर में सुरक्षा की है। यहां पहले बैरिकेड फिर कंटीले तार फिर नुकीले सरिये जैसी चीजें लगा दी गई हैं। इसके अलावा पैदल आने वाली जगहों पर भी इसी तरह से कटीले तार लगा दिए गए हैं। ये सब तस्वीरें देखने के बाद राहुल गांधी ने अपने ट्विटर एकाउंट से इसे ट्वीट किया था। 

उधर किसानों के चक्का जाम करने की बात कहने के बाद पुलिस ने सुरक्षा इंतजाम में कुछ और बढ़ोतरी करनी शुरू कर दी है। सिंघु बार्डर पर सड़क पर कील लगाने के लिए खोदाई हुई शुरू उसके बाद बैरिकेड्स लगाकर बनाई गई दीवार पर भी कंटीले तार बांधे गए।

सीमेटेंड जर्सी बैरियर और लोहे के बैरिकेड तो हजारों की संख्या में यहां पहुंचा दिए गए हैं। इसके अलावा टीकरी बार्डर पर नुकीले जरिये की पट्टी बिछाने के अब कंक्रीट के ढांचे पर प्लास्टिक का जाल लगाने की चल रही तैयारी। इसके लिए पुलिसकर्मियों का कहना है यदि आंदोलनकारियों ने इस ओर पत्थरबाजी की तो जाल के कारण वो बचे रहेंगे, पत्थर सीधे आकर उनको नहीं सकेगा।

 

इसके अलावा पुलिस ने मचान बनाए हैं, वहां से किसानों की गतिविधि पर निगरानी रखी जा रही है। ड्रोन से पूरे आंदोलन स्थल पर नजर है। आइबी और अन्य खुफिया एजेंसियां भी काफी सर्तक है जिससे 26 जनवरी जैसी घटना दुबारा न हो सके। महकमे के तमाम अधिकारी रोजाना मीटिंग कर रहे हैं, किसानों को दिल्ली की सीमा में न प्रवेश देने के लिए नई-नई रणनीतियां बनाई जा रही है।  

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो