Move to Jagran APP

दिल्ली में वाहनों के प्रदूषण जांच के लिए ढीली होगी जेब, 13 साल बाद बढ़ी कीमतें; जानिए अब क्या है रेट

राजधानी दिल्ली में वाहनों के प्रदूषण की जांच दरों में संशोधन किया गया है। दिल्ली सरकार में पर्यटन मंत्री कैलाश गहलोत ने इसकी घोषणा की। उन्होंने कहा कि दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन की लंबे समय से लंबित मांगों के मद्देनजर और प्रदूषण जांच सेवाओं की बढ़ती लागत को ध्यान में रखते हुए हमने दरों में संशोधन करने का निर्णय लिया है।

By Jagran News Edited By: Sonu Suman Thu, 11 Jul 2024 03:12 PM (IST)
दिल्ली में वाहनों के प्रदूषण जांच की दरों में हुई बढ़ोतरी।

राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने दिल्ली में वाहनों की प्रदूषण जांच की दरों में वृद्धि की घोषणा की है। नई दरें सरकार द्वारा अधिसूचित होते ही प्रभावी हो जाएंगी। दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन के अनुरोध पर यह फैसला लिया गया है। बता दें, 2011 से प्रदूषण जांच दरों में कोई संशोधन नहीं किया गया था। 

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा, "दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन की लंबे समय से लंबित मांगों के मद्देनजर और प्रदूषण जांच सेवाओं की बढ़ती लागत को ध्यान में रखते हुए हमने दरों में संशोधन करने का निर्णय लिया है।"

उन्होंने कहा, "यह संशोधन यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक है कि प्रदूषण जांच स्टेशन कुशलतापूर्वक काम करना जारी रख सकें और जनता को गुणवत्तापूर्ण सेवाएं प्रदान कर सकें। हम दिल्ली की वायु गुणवत्ता बेहतर बनाए रखने और यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं कि सभी वाहन आवश्यक प्रदूषण मानकों को पूरा करें।"

वाहनों के लिए नई प्रदूषण जांच की दरें इस प्रकार हैं:

  • पेट्रोल, सीएनजी, या एलपीजी (जैव ईंधन सहित) दो और तीन पहिया वाहनों के लिए 80 रुपये।
  • पेट्रोल, सीएनजी, या एलपीजी (जैव-ईंधन सहित) चार पहिया वाहनों और उससे ऊपर की श्रेणियों के लिए 110 रुपये।
  • डीजल से चलने वाले वाहनों के लिए 140 रुपये।

ये भी पढे़ं- 'केजरीवाल ही घोटाले के किंगपिन, सत्ता में रहने का अधिकार नहीं', पूरक चार्जशीट दायर होने पर मनोज तिवारी का हमला