Move to Jagran APP

'केजरीवाल ही घोटाले के किंगपिन, सत्ता में रहने का अधिकार नहीं', पूरक चार्जशीट दायर होने पर मनोज तिवारी का हमला

ईडी ने अरविंद केजरीवाल के खिलाफ कोर्ट में 208 पन्नों का आरोप पत्र दायर किया है। इसमें ईडी ने केजरीवाल पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। इस पर मनोज तिवारी ने आप नेता पर जमकर हमला बोला और कहा कि इस घटना के किंगपिन अरविंद केजरीवाल हैं। जो चार्जशीट दायर किया गया है वह उसमें 37वें आरोपी हैं। अदालत ने कहा है कि उनके खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए।

By Jagran News Edited By: Sonu Suman Thu, 11 Jul 2024 02:54 PM (IST)
बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने दिल्ली के अरविंद केजरीवाल पर जमकर हमला बोला है।

राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली। उत्तर पूर्वी दिल्ली के सांसद और दिल्ली प्रदेश भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी आबकारी नीति घोटाले में आरोपित हैं। इस पार्टी को सत्ता में बने रहने का अब कोई नैतिक अधिकार नहीं है। केजरीवाल यह घोषणा करते थे कि छोटा आरोप लगने पर ही वह पद छोड़ देंगे। ईडी के आरोप पत्र में वह और उनकी पार्टी को आरोपित बनाया गया है। दिल्ली के लोग उन्हें उनकी नैतिकता की याद दिला रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि अब तक किसी व्यक्ति या व्यक्तियों के समूह पर किसी घोटाले या भ्रष्टाचार के आरोप लगते थे, लेकिन पहली बार है कि किसी राजनीतिक पार्टी को आरोपित बनाया गया है।  झुग्गी बस्तियों, अनाधिकृत कॉलोनियों में रहने वाले, रेहड़ी पटरी का काम करने वालों के विकास पर खर्च होने वाले पैसे का घोटाला किया गया। आबकारी नीति घोटाला के आरोप में जेल में जाने के बाद भी इस्तीफा नहीं दिए। दिल्लीवासियों को इंतजार है कि वह कब इस्तीफा देंगे। यदि उनमें थोड़ी-बहुत भी नैतिकता बची हुई है, तो उन्हें तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।

विजय नायर सौरभ और आतिशी को करता था रिपोर्ट

उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने जांच एजेंसी को बताया है कि विजय नायर उन्हें नहीं बल्कि सौरभ भारद्वाज व आतिशी को रिपोर्ट करता था। उन्हें बताना चाहिए कि उसे सरकारी आवास कैसे आवंटित हुआ है? उन्होंने कहा कि दिल्ली में 2018 के बाद बुजुर्गों को पेंशन नहीं मिल रही है।

बीजेपी नेता ने कहा कि नए राशन कार्ड नहीं बन रहे हैं। इससे बुजुर्ग व गरीब परेशान हैं। केजरीवाल सरकार दिल्ली में प्रधानमंत्री आयुष योजना व प्रधानमंत्री आवास योजना को लागू नहीं कर रही है। दिल्ली में लोग पानी के लिए और पानी के कारण परेशान है। या तो सड़कों पर पानी भर जाता है या घरों में पानी नहीं आता है।

'अदालत ने कहा कि केजरीवाल के खिलाफ हैं पर्याप्त सबूत'

मनोज तिवारी ने कहा, "इसमें कोई दो राय नहीं है कि इस पूरी घटना के किंगपिन अरविंद केजरीवाल हैं। लगता है कि अरविंद केजरीवाल ही इस पूरे घोटाले के मास्टरमाइंड हैं और अब उन्हें आरोपी बनाया गया है। जो आरोप पत्र दायर किया गया है, वह उसमें 37वें आरोपी हैं और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि अदालत ने यह सब देखने के बाद कहा है कि उनके खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं, जिसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जानी चाहिए।"

बता दें, आबकारी नीति घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने अदालत में 208 पन्नों का आरोपपत्र दाखिल कर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ कई गंभीर आरोप लगाए हैं। ईडी ने अपने सातवें पूरक आरोपपत्र में केजरीवाल को घोटाले का सरगना बताया है। ईडी ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने गोवा चुनाव में रिश्वत के पैसे का इस्तेमाल किया।

ये भी पढ़ें- चार्जशीट में AAP आरोपी संख्या-38 तो केजरीवाल आरोपी संख्या..., ED ने दिल्ली सरकार के इस काम को बताया ढोंग