नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। अमूमन मकर संक्रांति पर 14 जनवरी को दिल्ली-एनसीआर समेत समूचे उत्तर भारत में ठंड विदाई की ओर होती है, लेकिन शुक्रवार सुबह से ही जबरदस्त ठंड है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के विज्ञानियों के अनुसार, बादल छाए रहने से दिन में भी महसूस हो रही गलन। लगातार पांच दिन से पड़ रही घने कोहरे की भी मार का सिलसिला शुक्रवार सुबर भी जारी रहा। नए पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने होने से 18-19 जनवरी को बारिश होने का पूर्वानुमान है, जिसके बाद ठंड में कमी आने के आसार हैं।

पश्चिमी हवाओं का दौर जारी रहने से बढ़ी ठंड

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि शुक्रवार को आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। सुबह के समय मध्यम स्तर का कोहरा रहा, जिससे लोग परेशान हुए। शुक्रवार को अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 19 और 06 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। पश्चिमी हवाओं का दौर भी अभी बदस्तूर जारी रहेगा।

अगले सप्ताह बारिश होने के आसार

उधर, स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष महेश पलावत ने बताया कि 16, 18 और 20 जनवरी को एक के बाद एक तीन नए पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहे हैं। इनके असर से पहाड़ों पर बर्फबारी होगी, जबकि 19 और 20 के आसपास दिल्ली में भी हल्की बारिश हो सकती है।

दरअसल, शुष्क मौसम के बावजूद दिल्ली में ठंड और कोहरे का सितम जारी है। दिल्ली-एनसीआर के आसमान में बादल छाए रहने से सूरज और बादलों के बीच लुका-छिपी चलती रही तो दिन के समय भी ठिठुरन का एहसास हो रहा है। अभी कुछ दिन मौसम का ऐसा ही मिजाज बने रहने का पूर्वानुमान है। बृहस्पतिवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 16.7 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री कम 5.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हवा में नमी का स्तर 69 से 100 प्रतिशत रहा। अधिकतम तापमान 15.1 डिग्री सेल्सियस के लिहाज से नरेला जबकि न्यूनतम तापमान 5.2 डिग्री सेल्सियस की ²ष्टि से आयानगर सबसे ठंडे इलाके रहे।

फरवरी तक रहेगा ठंड का असर

मौसम विभाग के मुताबिक, न्यूनतम और अधिकतम तापमान में कमी के चलते दिल्ली और इससे सटे पश्चिमी उत्तर प्रदेश और हरियाणा के एनसीआर के शहरों में ठंड में इजाफा हुआ है। मौसम विभाग के विज्ञानियों का कहना है कि ठंड का दौर सप्ताहांत तक जारी रहेगा। हालांकि, अगले हफ्ते इसमें कमी आने के आसार हैं। इसके पीछे सक्रिय हो रहे तीन नए पश्चिमी विक्षोभ हैं। वैसे भारतीय मौसम विज्ञान विभाग अक्टूबर में ही कह चुका है कि इस बार ठंड फरवरी महीने तक प्रभावी रहेगी। इस बीच जनवरी के अंत तक कोहरा भी लोगों को परेशान कर सकता है, खासकर दिल्ली और एनसीआर में।

यह भी पढ़ेंः दिल्ली और आस-पास के शहरों में कड़ाके की ठंड, पढ़िए- अगले एक सप्ताह कैसा रहेगा मौसम; कब मिलेगी राहत

Edited By: Jp Yadav