नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। Delhi School Girl MMS: पंजाब के मोहाली में स्थित एक यूनिवर्सिटी में एक छात्रा द्वारा साथी छात्राओं का बाथरूम में नहाते हुए वीडियो बनाने का मामला सामने आया है। इसके बाद पंजाब में हड़कंप की स्थिति है। शनिवार रात को यूनिवर्सिटी में जमकर हंगामा हुआ। हालांकि, आरोपित छात्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है।  इसके बाद दिल्ली के नामी स्कूल का एक एमएमएस कांड भी चर्चा में आ गया है, जिसे छात्रा के ब्वॉय फ्रेंड ने वर्ष 2004 में बनाया था।

पंजाब की यूनिवर्सिटी के मामले से हड़कंप

वहीं, पंजाब की यूनिवर्सिटी का मामला पूरी तरह गर्म है। आरोप है कि गिरफ्तार छात्रा ने साथी 60 छात्राओं की वीडियो बनाकर एक युवक को भेज दिया। इसके बाद इस युवक ने ये सारे वीडियो पोर्न साइट पर अपलोड कर दिए। इसका पता चलने पर तमाम छात्राएं बेहोश हो गईं।

लोग कभी नहीं भूल पाएंगे दिल्ली के स्कूल का एमएमएस कांड

पंजाब की यूनिवर्सिटी के मामले ने दिल्ली के उस MMS कांड की यादें ताजा कर दी हैं, जो दिल्ली के एक निजी स्कूल में घटना घटी थी। इस वीडियो के लीक होने के बाद दिल्ली-एनसीआर के स्कूलों में हड़कंप मच गया था। खासकर छात्राओं के पैरेंट्स ने खूब हंगामा किया था। यह अपनी तरह का अलग कांड था, जिसे शायद ही लोग भूल पाएं।

दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में मच गया था हड़कंप

2004 का डीपीएस एमएमएस स्कैंडल तब चर्चा में आया जब आरोपित ने ही इसे वायरल कर दिया। कहा जाता है कि दिल्ली पब्लिक स्कूल में एक छात्र द्वारा फिल्माए गए वीडियो को अनजाने ही वायरल कर दिया गया था। इस एमएमएस कांड से दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे देश सनसनी फैल गई।

छात्रा ने अपनी करीबी का वीडियो किया था लीक

वर्ष 2004 में दक्षिण दिल्ली के एक नामी स्कूल का एमएमएस कांड सामने आने के बाद हड़कंप मच गया था। इस पर देशभऱ में चर्चा हुई थी। दरअसल, एक छात्र ने अपनी ही क्लासमेट छात्रा के साथ अंतरंग संंबंधों की वीडियो बनाई फिर लीक कर दी। 

चुपके से बनाया था वीडियो

बताया जाता है कि स्कूली छात्रा ने अपनी गर्लफ्रेंड को बुलाया और फिर चुपचाप उसका वीडियो भी बना लिया। वीडियो बनाने की जानकारी छात्रा (गर्लफ्रेंड) को नहीं थी। इसके बाद ब्वॉयफ्रेंड ने इस वीडियो को वायरल भी कर दिया था। इसे Multimedia massaging service (MMS) Scandal नाम दिया था।

दिल्ली के नामी स्कूल में हुआ था MMS Scandal

दिल्ली के नामी स्कूल की छात्रा का यह एमएमएस कांड महीनों तक देश-विदेश की मीडिया की सुर्खियों में रहा था। इस घटना के बाद बढ़ते बवाल के बाद दिल्‍ली पुलिस ने छात्र के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे हिरासत में भी लिया था। इस दौरान स्कूलों में मोबाइल फोन पर बैन की भी मांग उठी थी। बैन तो है, लेकिन छात्र चोरी छिपे मोबाइल फोन लेकर जाते रहे हैं।  

घटना पर बनी था रागिनी एमएमएस फिल्म

दिल्ली के स्कूल के एमएमएस कांड के  7 साल बाद वर्ष 2011 में बॉलीवुड की मशहूर निर्माता और टेलीविजन की क्वीन एकता कपूर ने इस पर एक उम्दा फिल्म बनाई थी। इसमें राजकुमार राव ने उस ब्वॉयफ्रेंड का रोल किया था, जिसने अपनी प्रेमिका की चुपके से वीडियो बनाई थी।

वहीं, कायनाज मोतीवाला नाम की एक्ट्रेस ने पीड़ित छात्रा की भूमिका अदा की थी। फिल्म तो ज्यादा नहीं चली, लेकिन इसने चर्चा बहुत बटोरी। जानकारों के मुताबिक, पीड़ित छात्रा ने रिलीज होने से पहले यह फिल्म देखी और कुछ दृश्यों पर आपत्ति भी जताई थी। इसमें पीड़ित छात्रा के ब्वॉयफ्रेंड का रोल निभाने वाले राजकुमार राव मूलरूप से गुरुग्राम के रहने वाले हैं।

साल 2011 में रिलीज हुई रागिनी एमएमएस हॉरर मूवी को पवन कृपलानी ने निर्देशित किया था। ऐसा कहा जाता है कि  फिल्म अमेरिकन सुपर नैचुरल हॉरर मूवी पैरानॉर्मल एक्टिविटी से प्रेरित थी। देशी तड़का लगाने के लिए दिल्ली में रहने वाली एक लड़की की रियल स्टोरी को भी शामिल किया गया था। 

फिल्म की बात करें तो रागिनी (कायनाज मोतीवाला) और उदय (राजकुमार राव) वीकेंड मनाने के लिए फार्महाउस जाते हैं। रागिनी इस बात से अनजान होती है कि उस जगह पर कैमरे लगे हुए हैं। उदय इन कैमरा को प्लानिंग के तहत लगाता है। राजकुमार राव और कायनाज मोतीवाली अभिनीत इस फिल्म को सिर्फ 25 दिन में शूट किया गया था। 

Delhi Ki Ramlila: मुगल शासक रंगीला से हुआ था सीताराम का सौदा, कर्ज की शर्त पर दिल्ली में शुरू हुई थी रामलीला

Gurugram News: नोट कर लें 5 बिल्डरों के प्रोजेक्ट के नाम, जिनमें खरीद-फरोख्त पर हरेरा ने लगाई रोक

Edited By: Jp Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट