नई दिल्‍ली, अरविंद कुमार द्विवेदी। ओखला थाना क्षेत्र में लव जिहाद का विरोध करने पर एक परिवार की जान पर बन आई। अपना नाम व पहचान बदलकर दो युवकों ने एक ही परिवार की दो बहनों को अपने जाल में फंसाया। जिस लड़के ने बड़ी बहन को राजा बनकर फंसाया था वह खुर्शीद निकला। वहीं, जिसने लल्लन बनकर छोटी बहन को फंसाया था वह मोहम्मद सल्लन निकला। इनकी असलियत जानकर बहनों ने इनसे बात बंद की तो इन्होंने लड़कियों के माता-पिता को जमकर पीटा। फिलहाल पिता आइसीयू में भर्ती हैं। वहीं, मां को भी गंभीर चोटें आई हैं। पुलिस ने इस मामले में एफआइआर दर्ज कर ली है। हालांकि अभी तक आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

तीन साल से परिवार का जीना दुश्वार है

मूलरूप से बिहार के गया निवासी दंपति अपने तीन बेटियों व एक बेटे के साथ ओखला में पिछले बीस साल से रहा है। जनवरी- 2018 की बात है। परिवार की बड़ी लड़की पास के ही सरकारी स्कूल में 11वीं में पढ़ रही थी। स्कूल आते-जाते एक दिन उसे एक युवक ने रोककर बताया कि वह राजा है और उससे दोस्ती करना चाहता है। उसने दोस्ती की और रोज मिलने लगा। कुछ दिन बाद शादी करने का वादा करके उसने लड़की से शारीरिक संबंध बना लिए। उसने चुपके से इसका वीडियो भी बना लिया। इसके बाद वह उसे ब्लैकमेल करने लगा।

लड़कीवालों ने डर कर मौसी के घर भेज दिया

लड़की ने यह बात घरवालों को बताई तो डरकर उन्होंने उसे उसकी मौसी के घर अमृतसर भेज दिया। लेकिन, पहली मई-2018 को राजा अपने तीन दोस्तों के साथ वहां भी पहुंच गया। न मिलने पर उसने वीडियो वायरल करने की धमकी दी। वह उसे अमृतसर के एक होटल में ले गया। वहां भी उसने लड़की का अश्लील वीडियो बनाया और कहा कि अब जैसा मैं कहूंगा वैसा ही करना होगा।

असली नाम पता चला तो सन्न रह गई लड़की

लड़की ने बताया कि पहली मई-2018 की शाम दोनों अमृतसर से दिल्ली के लिए बस में सवार हुए। रास्ते में राजा ने बताया कि उसका असली नाम खुर्शीद है। लड़की को इस्लाम धर्म कुबूल करवाकर वह उससे शादी करना चाहता है। उसने बताया कि वह पहले से शादीशुदा है और उसके दो बच्चे भी हैं। यह सब जानकर लड़की के पैरों तले जमीन खिसक गई। लड़की ने शादी से मना किया तो उसने वीडियो वायरल करने की धमकी दी। दो मई की सुबह वह उसे ओखला थाने के बाहर छोड़कर चला गया। जाने से पहले उसने कहा कि जो समझाया है, पुलिस के सामने वही बोलना। पुलिस ने लड़की के पिता को बुलाया तो उसने पिता के सामने कह दिया कि वह अपनी मर्जी से खुर्शीद के साथ भागी है। फिर उसे महिला आयोग के काउंसिलिंग सेंटर भेज दिया गया। यहां से निकलने के बाद खुर्शीद ने उसे एक रात अपने रिश्तेदार के घर रखा। अगले दिन लड़की अपने माता-पिता के घर आ गई। इसके बाद भी वह धमकी देकर लड़की का शारीरिक शोषण करता रहा। खुर्शीद व उसके दोस्तों ने परिवार का जीना दुश्वार कर दिया। उनके घर की रेकी होने लगी, लड़की का पीछा किया जाने लगा। इससे परेशान होकर लड़की ने स्कूल जाना बंद कर दिया। खुर्शीद ने लड़की को बताया कि उसकी पहलीं बीवी भी हिंदू है। उसे भी इसी तरह फंसाकर शादी की थी थी।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस