Move to Jagran APP

Lady Don Anuradha: जानिये- पढ़ाई में बेहद तेज अनुराधा आखिर कैसे बन गई लेडी डॉन, एके 47 चलाने व अपहरण करने में है माहिर

Lady Don Anuradha अनुराधा व उसके पति फैलिक्स दीपक मिंज ने राजस्थान के सीकर में शेयर ट्रेडिंग का काम शुरू किया। घाटा होने पर लोगों के पैसे वापस करने का दबाव बना तो उसने कुख्यात अपराधी आनंदपाल सिंह से संपर्क किया। इसके बाद वह अपराध की दुनिया में आ गई।

By Jp YadavEdited By: Sat, 31 Jul 2021 03:27 PM (IST)
Lady Don Anuradha: जानिये- पढ़ाई में बेहद तेज अनुराधा आखिर कैसे बन गई लेडी डॉन

नई दिल्ली [धनंजय मिश्रा]। कुख्यात बदमाश काला जठेड़ी के साथ शुक्रवार देर रात उत्तर प्रदेश के सहारनपुर से गिरफ्तार हुई महिला डान अनुराधा चौधरी उर्फ अनुराग उर्फ मैडम मिंज एके 47 जैसे अत्याधुनिक हथियार चलाने में माहिर है। राजस्थान पुलिस की ओर से इसकी गिरफ्तारी पर भले ही महज 10 हजार का ही इनाम था लेकिन कई बड़े गैंगस्टरों की गर्लफ्रेंड रह चुकी अनुराधा के किस्से बड़े गैंगस्टर जैसे हैं। इसपर रंगदारी मांगने, हत्या के प्रयास व लूट समेत कई संगीन आपराधिक मामले दर्ज हैं। सबसे अधिक अपहरण व रंगदारी मांगने के मामले दर्ज है। राजस्थान के बेहद खूंखार गैंगस्टर रहे आनंदपाल सिंह से इसने सबसे पहले अपराध की बारीकियां सीखी। इसने गैंगस्टर को अंग्रेजी बोलना सिखाया। वर्ष 2017 में पुलिस मुठभेड़ में आनंदपाल की मौत होने पर उसने आनंदपाल गिरोह की कमान संभाल ली थी।

पढ़ाई में बेहद तेज अनुराधा ने अपराध की दुनियां में कदम क्यों कैसे रखी इसकी रोचक कहानी है। 34 साल की दुबली पतली, अंग्रेजी बोलने में तेज तर्रार अनुराधा दिल्ली के एक नामी कालेज से बीसीए में स्नातक की है। बताया जा रहा है कि अनुराधा के अपराध का सफर शेयर बाजार में हुए कर्ज से शुरू हुआ। उसके पति फैलिक्स दीपक मिंज ने राजस्थान के सीकर में शेयर ट्रेडिंग का काम शुरू किया। लोगों के लाखों रुपए शेयर में लगा दिए लेकिन उन्हें इसमें करोड़ों रुपये का नुकसान हो गया। लोगों ने जब पैसे वापस करने का दबाव बनाया तब उसने इलाके के कुख्यात अपराधी आनंदपाल सिंह से संपर्क किया। उसी के बाद अनुराधा जब आनंदपाल के साथ अपराध की दुनियां में आ गई तब उसका पति उसे छोड़ दिया था। 

वीडियों कॉल कर मांगी थी रंगदारी

वर्ष 2020 में राजस्थान के कुचामन में अनुराधा ने एक व्यक्ति को वाट्सएप पर वीडियो कॉल कर रंगदारी मांगी थी। रंगदारी नहीं देने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी। उसके बाद राजस्थान के अलग-अलग क्षेत्रों में कई कारोबारियों के अपहरण के मामले में अनुराधा का नाम आता रहा।

बचपन में उठ गया था मां का साया

अनुराधा राजस्थान के सीकर की रहने वाली है। इसके घर का नाम मिंटू है। मां के बचपन में ही देहांत हो जाने के बाद अनुराधा के सिर पर पिता का ही साया बचा था। आर्थिक हालत कमजोर होने के चलते पिता कमाने के लिए बाहर चले गए। अनुराधा ने फैलिक्स दीपक मिंज से प्रेम विवाह किया था। जब अनुराधा अपराध जगत में आ गई तो दीपक उससे अलग हो गया।

जानिये- कौन है लेडी डॉन अनुराधा उर्फ मैडम मिंज, जिसने दिया कई राज्यों की पुलिस की चकमा