नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। Kisan Andolan: किसानों के धरनास्थल पर पश्चिमी बंगाल की युवती के साथ दुष्कर्म और मृत्यु के मामले में देश की महिला रेसलर बबीता फोगाट ने भी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि जो लोग ऐसे कृत्य में शामिल रहे हैं उन पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए, जो किसान आंदोलन के नाम पर महिलाओं का शोषण कर रहे हैं।

दरअसल कुछ दिन पहले हरियाणा की सीमा में धरना दे रहे किसानों के स्थल से एक युवती के साथ दुष्कर्म और मृत्यु का मामला सामने आया था। इस मामले में धरनास्थल पर बैठे कुछ किसानों के नाम सामने आए थे, उसके बाद मामला पुलिस तक पहुंचा, पुलिस ने जांच शुरू की। एफआइआर हुई। कुछ किसान नेता नामजद किए गए। किसान आंदोलन से जुड़ा होने की वजह से मामले ने तुल पकड़ लिया। इसको लेकर सोमवार को धरनास्थल पर एक प्रेस कांफ्रेंस भी आयोजित की गई। इसमें लड़की के पिता को भी वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए शामिल किया गया। इससे पहले पश्चिमी बंगाल के हुगली जिले की रहने वाली इस लड़की के पिता ने अपनी बेटी के साथ हुए तमाम अत्याचारों के सबूत पुलिस को सौंप दिए हैं। हरियाणा सरकार भी इस युवती को न्याय दिलाने को लेकर संजीदा है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पुलिस अधिकारियों से जहां पूरे मामले की रिपोर्ट हासिल की, वहीं राज्‍य के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि आंदोलन की आड़ में ऐसे कृत्यों को स्वीकार नहीं किया जा सकता। मामले में ए‍क-एक आरोपित की गिरफ्तारी होगी। दूसरी ओर, हरियाणा महिला आयोग ने झज्‍जर के एसपी से इस मामले में रिपोर्ट मांगी है। गृहमंत्री अनिल विज ने पुलिस महानिदेशक मनोज यादव और झज्जर के एसपी को निर्देश दिए कि मामले की तह में जाकर वास्तविक दोषियों को किसी सूरत में बख्शा नहीं जाए। इससे पहले लड़की के पिता ने पुलिस को कई ऐसे सबूत सौंपे हैं, जिनके आधार पर पुलिस को वास्तविक अपराधियों तक पहुंचने में मदद मिल सकती है।

ये भी पढ़ें- कोरोना वायरस पर राकेश टिकैत ने सरकार को फिर लिया आड़े हाथों, इंटरनेट मीडिया पर कही ये बात

गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि टीकरी बॉर्डर पर पश्चिमी बंगाल की जिस युवती के साथ दुष्कर्म की बात सामने आई है, उस पर पूरी कार्रवाई की जा रही है। एक-एक आदमी को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए गए हैं। आंदोलन की आड़ में ऐसे जघन्य कृत्यों को हम किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं कर सकते। दूसरी तरफ मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने फिलहाल इस मामले में किसी तरह की टिप्पणी से इनकार कर दिया। उन्‍होंने कहा कि पुलिस तहकीकात में जुटी है।

ये भी पढ़ें- प्लाज्मा लेना या देना है तो इस वेबसाइट पर कर सकते हैं संपर्क, दिल्ली पुलिस करेगी मदद

ये भी पढ़ें- 15 घंटे घर में पड़े रहे माता-पिता के शव, किसी रिश्तेदारों ने भी नहीं दिया साथ, पढ़िए दर्दनाक स्टोरी

ये भी पढ़ें- 15 घंटे घर में पड़े रहे माता-पिता के शव, किसी रिश्तेदार ने भी नहीं दिया साथ, पढ़िए दर्दनाक स्टोरी