नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। love jihad: दिल्ली के दयालपुर इलाके में लव जिहाद का एक मामला सामने आया है। आरोपित इम्तियाज ने पड़ोस में रहने वाली हिंदू युवती को पहले प्रेम जाल में फंसाया, फिर शादी का वादा कर उसके साथ ओयो होटल में कई बार दुष्कर्म किया। जब शादी की बात आई तो आरोपितऔर उसके परिवार वाले युवती पर इस्लाम धर्म कबूलने और मुस्लिम रीति रिवाज से शादी का दबाव डाला।

कमरे में बंद कर किया दुष्कर्म

विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की। इसके बाद आरोपित पीड़िता उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर ले गया। पीड़िता का आरोप है कि वहां ताहिर नाम के युवक ने कमरे में बंद कर उसके साथ दुष्कर्म किया। मामले में पुलिस ने पीड़ित के बायान पर एफआइआर दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस फिलहाल ताहिर की भूमिका की जांच की जा रही है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि ताहिर अवैध हथियारों का तस्कर है। बदमाशों ने इसके द्वारा मुहैया कराए गए हथियारों का इस्तेमाल दिल्ली दंगों में किया था।

अश्लील वीडियो और फोटो  इंटरनेट मीडिया पर प्रसारित करने की धमकी

पुलिस के मुताबिक, 25 वर्षीय पीड़िता अपने परिवार के साथ इलाके में ही रहती है। इसी की गली में आरोपित इम्तियाज परिवार के साथ रहता है। दोनों की दोस्ती 2017 में हुई थी। आरोपित पीड़िता को इसी वर्ष जुलाई में यमुना पर स्थित ओयो होटल में ले गया। जहां उसके साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाए। अगस्त माह में भी आरोपित पीड़िता को इसी होटल में ले गया और शारीरिक संबंध बनाने की कोशिश की। पीड़िता ने विरोध किया तो उसकी अश्लील वीडियो और फोटो दिखाईं। इसे इंटरनेट मीडिया पर प्रसारित करने की धमकी देकर उसके साथ दुष्कर्म व कुकर्म किया।

मतांतरण कराने के लिए पीड़िता से की मारपीट

15 अक्टूबर को वह पीड़िता को शादी की बात करने के लिए अपने घर ले गया। जहां इम्तियाज और उसके परिवार वालों ने लड़की पर इस्लाम धर्म कबूलने और मुस्लिम रीति रिवाज के अनुसार शादी करने के लिए दबाव बनाया। पीड़िता ने विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की गई। इसके बाद 16 फरवरी को आरोपित पीड़िता को अपने साथ बुलंदशहर ले गया। पीड़िता ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वहां उसके साथ ताहिर नाम के युवक ने एक कमरे में बंद कर दुष्कर्म किया।

दयालपुर थाने में पीड़िता ने दी लिखित शिकायत

आरोपित इम्तियाज ने उसके साथ शादी भी नहीं की और उसे दयालपुर इलाके में छोड़कर फरार हो गया। पीड़िता ने इस बाबत अपने परिजनों को सूचना दी। जिसके बाद दयालपुर थाने में पीड़िता ने लिखित शिकायत दी गई। पुलिस ने 26 अक्टूबर को दुष्कर्म व मारपीट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपित इम्तियाज को गिरफ्तार कर लिया।

ताहिर ने दिल्ली दंगों में मुहैया कराया था हथियार

हाल ही में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दिल्ली दंगों के दौरान एक हवलदार से उनकी सर्विस रिवाल्वर छीनने वाले बदमाश व छेनू गिरोह के तीन शूटरों को गिरफ्तार किया था। एक बदमाश ने पूछताछ में बताया था कि बुलंदशहर से दिल्ली के कांति नगर के बीच में प्राइवेट बसें चलाने वाला ताहिर उन्हें हथियारों की सप्लाई करता है। इसी के द्वारा मुहैया कराए गए हथियारों का दिल्ली दंगों के दौरान फायरिंग में भी इस्तेमाल किया गया।

एफआइआर वापस लेने का बनाया जा रहा दबाव

पीड़ित परिवार का आरोप है कि उन पर मुकदमा वापस लेने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। गत 16 नवंबर को ही पीड़िता के भाई ने दयालपुर थाने में एक शिकायत दी है। उसका आरोप है कि एक अनजान व्यक्ति ने उसे धमकी दी कि अगर इम्तियाज और ताहिर खिलाफ मुकदमा वापस नहीं लिया तो उसकी बहन की हत्या कर देंगे।

  • संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इम्तियाज न्यायिक हिरासत में है। अभी तक दुष्कर्म में ताहिर की भूमिका सामने नहीं आई है। ताहिर पर हथियार सप्लाई का आरोप लगाया गया है। मामले की फिलहाल गहन जांच की जा रही है। -अंकित कुमार सिंह, अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त उत्तर पूर्वी जिला

ये भी पढ़ें- ऑस्ट्रेलिया में समुद्र किनारे ऊपर थी रेत और नीचे गड़ा था खूबसूरत युवती का शव, 4 साल बाद पकड़ा गया हत्यारा

Shraddha Murder: सोमवार को हो सकता आफताब का नार्को टेस्ट, दिल्ली पुलिस जुटी तैयारी में

Edited By: Pradeep Kumar Chauhan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट