नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। दिल्ली विकास प्राधिकरण की हाउसिंग स्कीम (DDA Housing Scheme 2021) को लॉन्च हुए एक महीने से अधिक का समय हो चुका है। देश की राजधानी में सिर्फ 8 लाख रुपये में अपने सपनों का घर बनाने की तमन्ना रखने वाले लोग इसमें आवेदन भी कर रहे हैं। अगर आप भी दिल्ली में मात्र 8 लाख रुपये सपनों का घर खरीदने की चाहत रखते हैं तो आवेदन के लिए सिर्फ 10 दिन शेष हैं। आगामी 16 फरवरी को 8 लाख से लेकर 2 करोड़ रुपये में लॉन्च होने वाली डीडीए की  हाउसिंग स्कीम खत्म हो जाएगी। ऐसे में अगर इसमें आवेदन करना चाहते हैं तो हम बता रहे हैं कि स्कीम में कितने फ्लैट हैं? कितनी कीमत है और कैसे करना होगा आवेदन।

कुल 1354 फ्लैट हैं डीडीए की स्कीम में

यहां पर बता दें कि 2 जनवरी को लॉन्च हुई डीडीए की हाउसिंग स्कीम में कुल 1,354 फ्लैट हैं। इनमें 300 के करीब फ्लैट ईडब्ल्यूएस के अंतर्गत आते हैं। इसमें आवेदन के लिए व्यक्ति की आय 3 लाख रुपये सालाना और परिवार की कुल सालाना आय 10 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए। स्कीम के तहत नरेला इलाके में 15 जनता फ्लैट हैं, जिनकी कीमत 7 से 8 लाख रुपये हैं। ये पुराने फ्लैट्स हैं और मंगलापुरी की तुलना में छोटे हैं। वहीं, मंगलापुरी में 276 ईडब्ल्यूएस श्रेणी के फ्लैट्स हैं, जिनकी कीमत 28.50 से 29.50 लाख रुपये के बीच है। 

2 करोड़ तक के हैं लग्जरी फ्लैट

डीडीए की इस स्कीम में लग्जरी फ्लैट की कीमत 2.14 करोड़ रुपये तक हैं। महंगे फ्लैटों में एचआईजी श्रेणी के थ्री बीएचके फ्लैट हैं। रजिस्ट्री बाद ये फ्लैट 4-5 लाख रुपये महंगे हो जाएंगे। वैसे में फ्लैट की कीमत में रजिस्ट्री की कीमत शामिल नहीं होती है।

Rakesh Tikait प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करने के लिए तैयार, कहा- 'PM फोन नंबर दे दें'

16 फरवरी को अंतिम तारीख, ऐसे करें आवेदन

अगर आप भी डीडीए की स्कीम फ्लैट पाने की चाहत रखते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको डीडीए की आधिकारिक वेबसाइट www.dda.org.in आवेदन करना होगा। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते डीडीए यह स्कीम पूरी तरह ऑनलाइन है। केवल फ्लैट के ड्रॉ के बाद सिर्फ एक बार डीडीए दफ्तर आने की जरूरत होगा, जहां उपभोक्ता कन्वीयंस डीड की प्रक्रिया पूरी करेगा। 

यह भी जानें

  • डीडीए हाउसिंग की इस स्कीम में सबसे अधिक 757 फ्लैट एमआईजी श्रेणी के हैं।
  • द्वारका, जसोला, मंगलापुरी, वसंत कुंज और रोहिणी में योजना के तहत 1,350 से अधिक फ्लैट हैं।
  • एचआइजी, एलआइजी और ईडब्ल्यूएस श्रेणी के तहत क्रमश: 254, 52 और 291 फ्लैट हैं।

 

Edited By: JP Yadav