नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। इंटरनेट मीडिया पर आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) सरकार के मंत्री राजेंद्र पाल गौतम का हिंदू देवी-देवताओं की पूजा नहीं करने की शपथ लेने संबंधी वीडियो प्रसारित होने पर भाजपा नेताओं ने नाराजगी जताई है। उन्होंने मुख्यमंत्री से इन्हें तुरंत मंत्री पद से हटाने की मांग की है। उनके खिलाफ पुलिस से भी शिकायत की गई है।

BJP की मांग, आरोपित मंत्री को मिले सजा

शुक्रवार को प्रेस वार्ता में दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि लगभग 10 हजार की भीड़ में राजेंद्र पाल गौतम ने हिंदू देवी देवताओं के प्रति अपमान का भाव दिखाया है। उन्होंने नफरत फैलाने की कोशिश की है। उनके व्यवहार की सिर्फ निंदा नहीं, बल्कि उन्हें सजा मिलनी चाहिए। उनका अपराध अक्षम्य है।

24 घंटे के भीतर हो मंत्री पर कार्रवाई

आदेश गुप्ता ने कहा कि उन्हें मंत्री बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। उन्हें मंत्रिमंडल से हटाने के साथ ही आम आदमी पार्टी (AAP) से भी निकाला जाना चाहिए। यदि केजरीवाल अपने आप को धर्मनिरपेक्ष मानते हैं तो वह अपने मंत्री के खिलाफ 24 घंटे के अंदर कार्रवाई करें।

AAP कर रही गंदी राजनीति

उन्होंने कहा कि AAP का इतिहास नफरत फैलाकर और हिंदू देवी देवताओं का अपमान करके राजनीति करने की रही है। कश्मीर को भारत से अलग करने की वकालत करने वाले प्रशांत भूषण के एक करोड़ रुपये के चंदे से AAP का जन्म हुआ है। इसके नेताओं की मानसिकता देश व धर्म का विरोध करने की है। अरविंद केजरीवाल अयोध्या में राम मंदिर बनाने का विरोध करते रहे हैं।

AAP नेता सर्जिकल स्ट्राइक पर भी खड़ा कर चुके हैं सवाल

AAP नेता बाटला हाउस एनकाउंटर में शहीद हुए मोहन चंद शर्मा व अन्य लोगों के प्रति असम्मान दिखाने के साथ सर्जिकल स्ट्राइक पर प्रश्न खड़ा कर चुके हैं। ताहिर हुसैन व अन्य आप नेताओं द्वारा प्रायोजित दंगे में अंकित शर्मा सहित अन्य निर्दोष हिंदुओं की हत्या की गई थी।

वहीं, दिल्ली से सांसद और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल का दोहरा चरित्र है। दिखाने के लिए वह अपने ट्वीट सभी इंसान व धर्म को एक समान बताते हैं। यदि उनकी यह बात सही है तो उन्हें तुरंत हिंदू देवी देवताओं का अपमान करने व बौद्ध धर्म को बदनाम करने वाले अपने मंत्री के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी का दूसरा चेहरा नफरत फैलाने वाला है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कहते हैं -सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास और सबका प्रयास। दूसरी ओर आप सरकार का एक मंत्री नफरत फैला रहा है। दंगा फैलाने की कोशिश कर रहा है। ऐसे लोगों से सभी को सावधान रहना चाहिए।

Pollution 2022: दिल्ली-एनसीआर के करोड़ों लोगों को कब से परेशान करेगी जहरीली हवा, पढ़िये- IMD का पूर्वानुमान

Edited By: JP Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट