नई दिल्ली/गुरुग्राम [आदित्य राज]। Delhi Metro Rail corporation take over Gurugram Rapid Metro by tonight: गुरुग्राम के 60,000 से अधिक यात्रियों के साथ दिल्ली-एनसीआर (फरीदाबाद, नोएडा, गाजियाबाद) के लाखों लोगों के लिए दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail Corporation) बड़ी खुशखबरी लेकर आया है।  DMRC 22 अक्टूबर यानी मंगलवार की आधी रात से गुरुग्राम रैपिड मेट्रो (Gurugram Rapid Metro) का अधिग्रहण करने जा रहा है। दिल्ली मेट्रो के आला अधिकारियों के मुताबिक, अधिग्रहण के साथ ही कुल 11.6 किलोमीटर लंबे इस कॉरिडोर पर बने 11 स्टेशनों पर पूर्व की तरह रैपिड मेट्रो रेल सेवाएं देती रहेगी। इस दौरान टाइम टेबल भी पूर्व की तरह ही रहेगा। यह गुरुग्राम रैपिड मेट्रो में रोजाना सफर करने वाले 60,000 से अधिक यात्रियों के लिए भी राहत की खबर है।

यहां पर बता दें कि गुरुग्राम रैपिड मेट्रो (Gurugram Rapid Metro) रेल सेवा के संचालन के मामले की सुनवाई के दौरान पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में हरियाणा सरकार ने दिल्ली मेट्रो रेल निगम को इसका संचालन देने की इच्छा जताई थी। 

अब गुरुग्राम रैपिड मेट्रो के संचालन को लेकर डीएमआरसी के अधिकारियों का कहना है कि वह अपने यात्रियों को उच्च स्तर की सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए प्रतिबद्ध है। इसके लिए डीएमआरसी पहले ही गुरुग्राम रैपिड मेट्रो के संचालन के लिए पर्याप्त स्टाफ की व्यवस्था कर चुका है। ऐसे में डीएमआरसी का दावा है कि वह अपने यात्रियों को बेहतर सेवाएं दे सकेगा। 

गुरुग्राम रैपिड मेट्रो का संचालन शुरू करते ही दिल्ली मेट्रो का रेल नेटवर्क दिल्ली-एनसीआर में 389 किलोमीटर का हो जाएगा, जिसमें 285 मेट्रो स्टेशन होंगे। इसमें नोएडा ग्रेटर नोएडा मेट्रो भी शामिल है। बताया जा रहा है कि अधिग्रहण के साथ ही मेट्रो अधिकारी इस बात की संभावनाएं तलाशने में जुट गए हैं कि कैसे रैपिड मेट्रो को और ज्यादा उपयोगी बनाया जा सकता है?

हरियाणा सरकार की सहमति के बाद राह हुई आसान

पिछले महीने पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट में हुई सुनवाई के बाद गुरुग्राम रैपिड मेट्रो सेवा का संचालन अपने हाथ में लेने के बाबत हरियाणा सरकार और दिल्ली मेट्रो रेल निगम के बीच सहमति बन गई थी। इस सहमति के तहत एयरपोर्ट एक्सप्रेस मेट्रो का परिचालन अपने हाथ में लेने वाली डीएमआरसी ने गुरुग्राम रैपिड मेट्रो को लेकर हामी भर दी थी, इसके बाद सिर्फ कागजी प्रक्रिया पूरी होनी बाकी थी। 

गौरतलब है कि गुरुग्राम रैपिड मेट्रो सेवा प्रदान करने वाली कंपनी रैपिड मेट्रो रेल गुड़गांव साउथ लिमिटेड कुछ महीने आर्थिक तंगी के चलते इसका संचालन करने में असमर्थता जताई थी। इसी के साथ वित्तीय संकट की शिकार कंपनी आइएल एंड एफएस इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी ने रैपिड मेट्रो के अधिग्रहण के लिए हरियाणा सरकार को पत्र भी लिखा था। इसी के साथ सरकार को लिखे पत्र में आर्थिक तंगी के चलते 9 सितंबर से इसे बंद करने की भी बात कही थी। वहीं, पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट में मामला होने के चलते कंपनी ने एक महीने और संचालन की सहमति जताई थी। 

स्टेशन के नाम

  1.  सिकंदरपुर
  2.  फेज 2
  3.  वोडाफोन बेल्वडेयर टावर्स
  4. इंडसइंड बैंक साइबर सिटी
  5.  माइक्रोमैक्स मोलसरी एवेन्यू
  6. फेज-3
  7. फेज-1
  8.  सेक्टर-42-43
  9. सेक्टर-43-54
  10.  सेक्टर-54 चौक
  11. सेक्टर-55-56

Extramarital affairs: ये है आपके शहर का हाल, हर 15 दिन में 1 अवैध संबंध

बिहार के सीएम नीतीश कुमार को दिल्ली में झटका, जदयू नेता समर्थकों संग AAP में शामिल

इस गलती पर बैंड बाजे वालों संग बराती भी जाएंगे जेल, वजह जानने के लिए पढ़िए स्टोरी

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप