नई दिल्‍ली, ऑनलाइन डेस्‍क। Unlock 6.0: दिल्‍ली के लोगों को एक बड़ी सुविधा मिली है। लॉकडाउन के बाद से चल रही पाबंदियों में से एक और पाबंदी सरकार ने हटा दी है। दिल्‍ली में बसों से चलने वाले सभी यात्रियों के लिए यह सुविधा बड़ी राहत लेकर आई है। केजरीवाल सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने ट्वीट कर कहा है कि रविवार से यात्री बस में सभी सीटों पर बैठ कर यात्रा कर सकेंगे। फिलहाल एक सीट खाली छोड़ने का प्रावधान था जिसके कारण बसों में पूरी क्षमता के साथ यात्री नहीं बैठ रहे थे। इसके कारण लोगों को काफी देर-देर तक बसों का इंतजार करते रहना पड़ रहा था।

त्योहारी सीजन में आम लोगों के लिए राहत की खबर

बता दें कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच त्योहारी सीजन में आम लोगों के लिए राहत की खबर है। डीटीसी (दिल्ली परिवहन निगम) और क्लस्टर बसों में अधिकतम 20 सवारियों की सीमा खत्म कर दी गई है। अब इन बसों में पूरी क्षमता के हिसाब से सवारियां बैठाई जा सकेंगी। बसों में 20 सवारियों की तय सीमा को खत्म करने के केजरीवाल सरकार के प्रस्ताव को शुक्रवार को उपराज्यपाल (एलजी) अनिल बैजल ने मंजूरी दे दी है। इसके लिए शनिवार को स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर (एसओपी) जारी कर दिया गया है।

यह है नए नियम

  • यात्रियों को हर सीट पर बैठने का अधिकार होगा। एक सीट छोड़ कर बैठने की बंदिश को सरकार ने हटा दिया है।
  • सभी यात्रियों को मास्‍क लगाना जरूरी होगा।
  • सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने की सलाह दी गई है।
  • किसी भी यात्री को खड़े हो कर यात्रा करने की अनुमति नहीं होगी।
  • शारीरिक दूरी का विशेष खयाल रखना होगा ताकि संक्रमण से बचा जा सके।

अंतरराज्यीय बस सेवा को भी मंजूरी

अनिल बैजल ने अंतरराज्यीय बस सेवा को भी शुरू करने की इजाजत दे दी है। माना जा रहा है कि यह सेवा अगले सप्ताह से शुरू हो जाएगी। इसके लिए भी जल्द ही एसओपी जारी की जाएगी।

सरकार ने बसों में सभी सीटों पर सफर की मांगी थी अनुमति

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की 23 अक्टूबर की बैठक में डीटीसी और क्लस्टर बसों में यात्रियों की संख्या बढ़ाने का मुद्दा उठा था। दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बसों में सभी सीटों पर यात्रियों को बैठाने की इजाजत के साथ संचालन की अनुमति मांगी थी। उन्होंने कहा था कि कोई भी यात्री बस में खड़ा नहीं रहेगा, लेकिन प्रत्येक सीट पर सवारी बैठाकर बसों को चलाने की इजाजत दी जाए।

बस स्टैंड पर लंबी लाइन से मिलेगी राहत

डीटीसी और क्लस्टर बसों में 40-45 यात्री बैठकर यात्र कर सकते हैं, लेकिन कोरोना महामारी के कारण लगाई गई पाबंदियों के चलते अब तक सिर्फ 20 यात्रियों के साथ बसों के संचालन की अनुमति दी गई थी। इसलिए बस स्टैंड पर लंबी लाइन लग जाती थी और लोगों को काफी देर तक इंतजार करना पड़ता था। अब नए फैसले से रोजाना यात्रा करने वालों को काफी राहत मिलेगी। 

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021