नई दिल्ली, गौतम मिश्रा। सोनीपत में खुदकुशी करने वाले निशांत तंवर के स्वजनों ने दिल्ली कैंट के पार्षद संदीप तंवर पर आरोप लगाए हैं। आरोप है कि पार्षद संदीप तंवर ने निशांत, उनके भाई व माता- पिता पर झूठे आरोप लगाते हुए नारायणा थाने में जानलेवा हमला करने का मामला दर्ज कराया था।

फेसबुक से पता चला एफआइआर

निशांत के पिता सुनील तंवर का कहना है कि संदीप तंवर ने जब एफआइआर की कॉपी फेसबुक पर डाली तब निशांत को पता चला कि इस मामले में उसके साथ साथ परिवार के अन्य सदस्य भी आरोपित हैं। इसके बाद वह बिल्कुल टूट गए। वह बार बार कह रहे थे कि झगड़ा मुझसे है, तो मुझपर मामला दर्ज कराओ, मेरे माता- पिता को इसमें क्यों घसीटा गया। क्या मेरी मां अब कोर्ट में जाकर खड़ी होगी। उन्होंने बताया कि मंगलवार को वह काफी निराश था और घर से देर रात बाहर निकला।

खुदकुशी से पहले बनाया वीडियो

उन्होंने कहा कि निशांत ने खुदकुशी से पहले वीडियो भी बनाया, जिसमें उन्होंने माता- पिता से माफी मांगी, साथ ही संदीप तंवर पर खुद को फंसाने का आरोप लगाया। निशांत का मोबाइल फिलहाल साेनीपत पुलिस के कब्जे में है। ज्ञात हो कि 12 सितंबर को दोनों पक्षों के बीच नारायणा में हाथापाई हुई थी। इसी मामले में संदीप ने निशांत व उनके स्वजन पर मामला दर्ज कराया था।

संदीप तंवर ने आरोप को बताया निराधार

उधर इस मामले संदीप तंवर ने खुद पर लगाए तमाम आरोप को निराधार बताया है। उनका कहना है कि उनकी जानकारी में निशांत अपने घर से झगड़ा करके निकले थे। 12 सितंबर को हुई घटना का निशांत की खुदकुशी के मामले से कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि हम कानूनी लड़ाई लड़ रहे थे, लेकिन निशांत की खुदकुशी की बात सुनकर बेहद दुख हो रहा है।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस