नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। निर्भया मामले में सभी दोषियों को फांसी की सजा के ऐलान के बाद दोषी विनय के आरके पुरम सेक्टर 4 के रविदास कैंप स्थित घर व कॉलोनी में सन्नाटा पसर गया। घर पर स्वजन और रिश्तेदार इकट्ठा हो गए। विनय की मां और पिता बेहद तनाव में दिखे। उन्होंने एक बार फिर मीडिया के माध्यम से निर्भया के अभिभावकों और राष्ट्रपति से विनय को माफ करने की अपील की है।

कॉलोनी के लोगों ने मीडियाकर्मियों से बात करने से इन्कार कर दिया। वहीं विनय के पिता ने कहा कि मैं मीडिया के जरिए निर्भया के माता-पिता और राष्ट्रपति से विनय को माफ करने की गुहार करता हूं। उन्होंने कहा कि मेरी अपील है कि उसे फांसी की जगह आजीवन कैद की सजा दे दी जाए।

वर्षों बाद दामिनी चौक को मिला सुकून

सवा सात साल बाद दुष्कर्मियों व हत्यारों को फांसी के बाद जंतर-मंतर के दामिनी चौक को जरूर सुकून मिला। यह चौक 16 दिसंबर 2012 को चलती बस में युवती से दुष्कर्म के बाद हत्या की दिल दहला देने वाली घटना के इंसाफ की मांग को लेकर वर्षों तक गमजदा रहा।

दिसंबर के सर्द दिनों व रातों में रोजाना हजारों की संख्या में न्याय मांगने लोग यहां आते थे। एक पेड़ के नीचे मोमबत्ती जलाकर पीड़िता की आत्मा की शांति व न्याय की कामना लेकर न जाने लोग कहां-कहां से आते। उस युवती का संघर्ष कई पीड़ित युवतियों को हिम्मत दे रहा था। कई पीड़िता भी यहां आकर बैठने लगी थी। हालांकि, कोर्ट के एक आदेश के बाद जंतर-मंतर पर धरना प्रदर्शन पर रोक लग गई।

LIVE 2012 Nirbhaya Case Hanging: मेडिकल जांच में फिट पाए गए निर्भया के दोषी

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस