नई दिल्ली, अमित शर्मा। Exclusive Interview: जिस तरह से टीम इंडिया परफॉर्म कर रही है, टीम की तैयारी रही है, लगता है इस बार वर्ल्ड कप फिर देश में आ सकता है। ऐसा मानना है विराट कोहली के शुरुआती दिनों के कोच रहे राजकुमार शर्मा का। वर्ल्ड कप चल रहा है और ऐसे में टीम इंडिया के क्रिकेट स्टार्स के करीबी लोगों तक जागरण डॉट कॉम की टीम पहुंच रही है। इसी क्रम में दिल्ली के पश्चिम विहार इलाके में रोज सुबह-शाम नए खिलाड़ियों के साथ वक्त बिताने वाले राजकुमार शर्मा से हमारी मुलाकात हुई। राजकुमार भगवान से दुआ करते हैं कि टीम इंडिया फिर देश को 1983 और 2011 की खुशी दिलाए।

विराट की एग्रेसिव इमेज पर राजकुमार कहते हैं, जो दिखता है कई बार वैसा होता नहीं। कोहली कि जो एग्रेसिव इमेज बना दी गई है, वो वैसे बिलकुल नहीं है। लोगों की मदद करने में पीछे नहीं रहते और संस्कार पूरे हैं। शर्मा का कहना है कि कई बार फैंस के परेशान कर देने से स्टार इरिटेट हो जाते हैं, जो बाद में सोशल मीडिया पर फैलाया जाने लगता है।

तकरीबन 200 यंग क्रिकेटर्स के बीच ग्राउंड में शर्मा से हमारी बात हुई। ऐसे में ये सवाल पूछना लाजिमी था कि कैसे कोई राजकुमार शर्मा किसी कोहली को पहचान पाता है? शर्मा का एक शब्द में जवाब था- 'एक्सपीरियंस'। 'जिसने खुद अच्छा क्रिकेट खेला हो तो नए खिलाड़ी का टैलेंट पहचानने में वक्त नहीं लगता। बच्चे की मेहनत, पेरेंट्स का सपोर्ट भी बहुत बड़ा फेक्टर रहते हैं। पूरे साल अच्छा खेलने वाला बच्चा ट्रायल में अच्छा नहीं कर पाता। कभी इसके उलट भी हो जाता है। साल भर सामान्य खेलने वाला ट्रायल में शानदार खेलता है। बहुत सारी चीजें होती हैं। कभी किसी अच्छे प्लेयर की नजर पड़ गई तो वो अपनी एकेडमी में ले जाता है। एक ही दिन में किस्मत बदल जाती है।'

शर्मा मानते हैं कि सेलीब्रिटी कोच होने के फायदे भी हैं और नुकसान भी। ऐसे में आपसे एक्सपेक्टेशन बढ़ जाती हैं। सब सोचते हैं हमारा बच्चा इनके पास सीखा तो इंडिया खेल जाएगा। जबकि ऐसा होता नहीं, मेहनत ही काम आती है। कोहली को याद करते हुए शर्मा टीचर्स डे के उस यादगार क्षण के बारे में भी बताने लगे जब कोहली ने उनके लिए कार भिजवाई थी। कोहली तब अमेरिका थे। उनका भाई ये तोहफा लेकर राजकुमार के घर आया। शर्मा कहते हैं कि वो क्षण भुलाए नहीं भूला जा सकता कि कोई शिष्य आपको इस कदर चाहता है। 

यंग जनरेशन को राजकुमार शर्मा एक बात कहना चाहते हैं कि क्रिकेट में शॉर्ट कट मत तलाशिए। टीम इंडिया के लिए खेलने का सपना लेकर आइए। जब विजन बड़ा रखेंगे तो आईपीएल तो मिल ही जाएगा।

क्रिकेट से जुड़ा ऐसा ही एक और दिलचस्प इंटरव्यू यहां पढ़ें:

 रांची के चने वाले की सुनिए, ए मही, जीत के आना, चना खिलाएंगे

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ruhee Parvez