नई दिल्ली, जेएनएन। सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) को हराकर दिल्ली कैपिटल्स (DC) क्वालीफायर में पहुंच गई है। दूसरे क्वालीफायर में दिल्ली का मुकाबला तीन बार के चैपिंयन चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) से होगा। दिल्ली इस आइपीएल (IPL) में एक गलती लगातार करती आ रही है। महेंद्र सिंह धौनी की टीम इसका पूरा फायदा उठा सकती है। दिल्ली अगर इसे नहीं सुधारती, तो चेन्नई के लिए फाइनल में पहुंचना आसान हो जाएगा।

ये है कमी

दिल्ली की टीम इस पूरे आइपीएल सीजन में अपने मध्यक्रम के प्रदर्शन से लगातार परेशान रही है। टीम के साथ समस्या रही है कि मध्यक्रम में एक साथ विकेट गंवा देती है। हालांकि, टीम जब दिल्ली के बाहर खेलती, तब रिषभ पंत का बल्ला बोलता है। फिर भी टीम में अगर पंत आउट हो जाते हैं, तो एक के बाद एक विकेट गिरने लगती है। रदरफोर्ड के आने के बाद टीम के मध्यक्रम में मजबूती तो आई है, लेकिन इस समस्या से निजात नहीं मिल पाई है। हैदराबाद के खिलाफ यह कमी नजर आई थी। राशिद खान के दो विकेट चटकाने के बाद टीम ने लगातार अंतराल पर विकेट गंवाए। टीम को जीत के लिए सिर्फ 5 रन की जरूरत थी, इसे हासिल करने में भी 2 विकेट गंवा दिए।

धौनी से बचना है मुश्किल

चेन्नई भी इस कमी वाकिफ ही होगी। चेन्नई के पास धौनी जैसा कप्तान है, जो इस कमी का भरपूर फायदा उठा सकता है। वैसे भी चेन्नई के पास बेहतरीन स्पिन गेंदबाज है, जो इसका भरपूर फायदा उठा सकते हैं। अगर मध्यक्रम की बात करे, तो दिल्ली के टीम तीन विदेशी खिलाड़ी है। उनके साथ स्पिन को खेलना एक बड़ी समस्या रही है। पंत भी स्पिन के अपेक्षा तेज गेंदबाजों का ज्यादा अच्छा खेलते हैं।

शुक्रवार को होगा आर या पार

शुक्रवार को दूसरा क्वालीफायर खेला जाएगा। यह मैच विशाखापट्टनम मे खेला जाएगा। दिल्ली के साथ फायदा यह है कि एलिमिनेटर के मैच उन्होंने इसी मैदान पर खेला है। वहीं, धौनी की टीम के लिए विशाखापट्टनम में यह इस सीजन का पहला मैच होगा। दूसरे क्वालीफायर में जीतने वाली टीम का मुकाबला 12 मई को मुंबई से होगा।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajat Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस