नई दिल्ली, जेएनएन। Team India Squad for West Indies tour: रविवार को वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम इंडिया का ऐलान किया गया। मुंबई स्थित भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के क्रिकेट सेंटर में कप्तान विराट कोहली, मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद और अन्य चयनकर्ताओं के बीच चली बैठक के बाद वेस्टइंडीज दौरे के तीनों फॉर्मेट के लिए अलग-अलग टीमों का चयन किया गया है। 

मुंबई में चयकर्ताओं की समिति के बीच हुई बैठक में टीम इंडिया के एक अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज को वेस्टइंडीज दौरे पर करियर बचाने का मौका मिला है। जी हां, हम बात कर रहे हैं रिद्धिमान साहा की जो टेस्ट टीम में डेढ़ साल से ज्यादा समय के बाद चुने गए हैं। रिद्धिमान साहा ने अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच जनवरी 2018 में खेला था। 

विकेट कीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा को डेढ़ साल से ज्यादा समय के बाद भारत की टेस्ट टीम में फिर से जगह मिली है। चयनकर्ता एमएसके प्रसाद की मानें तो रिद्धिमान साहा को कमबैक करने का मौका मिला है। हालांकि, रिषभ पंत भी वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट टीम के फाइनल फिफ्टीन का हिस्सा हैं, लेकिन चयनकर्ताओं के अनुसार रिद्धिमान साहा को वापसी करने का मौका मिलेगा। 

दरअसल, रिद्धिमान साहा के कंधे में चोट लगी थी। इसके बाद वे साउथ अफ्रीका के खिलाफ पूरी सीरीज नहीं खेल पाए थे। बाद में बीसीसीआइ ने रिद्धिमान साहा का इलाज कराया और वे फिट हो गए। रिद्धिमान साहा ने आइपीएल में कमबैक किया और एक-दो मैचों में औसत प्रदर्शन किया, लेकिन घरेलू क्रिकेट में रिद्धिमान साहा ने अच्छा प्रदर्शन कर चयनकर्ताओं को भरोसा जीता और वापसी की। 

रिद्धिमान साहा के अलावा विकेटकीपर बल्लेबाज की रेस में युवा चेहरे के रूप में केएस भरत थे। चीफ सलेक्टर एमएसके प्रसाद ने भी इस बात को कबूल किया है कि पहला टेस्ट मिलने के केएस भरत काफी करीब थे, लेकिन रिद्धिमान साहा को वापसी का मौका देने के लिए उन्हें टीम में चुन पाना संभव नहीं था। ऐसे में 34 वर्षीय रिद्धिमान साहा के पास अपना करियर बचाने का ये आखिरी मौका होगा। 

Posted By: Vikash Gaur