अभिषेक त्रिपाठी, नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) के दिग्गजों की दो अहम बैठकें गुरुवार को दिल्ली में हुईं। इसमें बीसीसीआइ अध्यक्ष सौरव गांगुली, सचिव जय शाह, उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला, पूर्व अध्यक्ष एन. श्रीनिवासन, कोषाध्यक्ष अरुण सिंह धूमल, आइपीएल चेयरमैन बृजेश पटेल, पूर्व सचिव निरंजन शाह, असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्व सरमा ने भाग लिया।

पहली बैठक एक होटल में हुई, जबकि दूसरी बैठक भाजपा के एक दिग्गज मंत्री के घर पर हुई। दूसरी बैठक रात एक बजे तक चली। इस बैठक के बाद बीसीसीआइ के सभी दिग्गजों ने केंद्रीय मंत्री से कहा आप जो फैसला लेंगे वो हमें मान्य होगा। 10 कि सुबह तक फैसला आने की उम्मीद है कौन किस पद पर विराजमान होगा।

सूत्रों के अनुसार सौरव गांगुली अगला चुनाव नहीं लड़ेंगे, जबकि जय फिर से सचिव या अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ सकते हैं। कनार्टक से आने वाले 1983 विश्व कप चैंपियन टीम के सदस्य रोजर बिन्नी और कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला में से एक अध्यक्ष, सचिव या आइपीएल चेयरमैन बन सकते हैं। वर्तमान कोषाध्यक्ष और केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के भाई अरुण दोबारा इसी पद पर नामांकन कर सकते हैं।

अन्य पदों के लिए दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के पुत्र रोहन जेटली, ओडिशा क्रिकेट संघ से आने वाले संजय बेहरा, हरियाणा क्रिकेट संघ से आने वाले अनिरुद्ध चौधरी के नामों पर चर्चा हुई। वर्तमान संयुक्त सचिव जयेश जार्ज और आइपीएल चेयरमैन बृजेश पटेल भी अगला चुनाव नहीं लड़ेंगे।

बीसीसीआइ का चुनाव का 18 अक्टूबर को मुंबई में होगा। 11 और 12 अक्टूबर को नामांकन होगा। 13 अक्टूबर को आवेदन की जांच की जाएगी। 14 तक प्रत्याशी अपना नाम वापस ले सकता है। इसके बाद सही नामांकन करने वालों की लिस्ट 15 अक्टूबर को जारी की जाएगी।

Edited By: Sanjay Savern

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट