नई दिल्ली, स्पोर्ट्स डेस्क। भारत ए टीम ने मंगलवार को कॉक्स बाजार के शेख कमल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में बांग्लादेश ए के खिलाफ अपने दौरे में दो अनौपचारिक चार दिवसीय टेस्ट मैचों की शुरुआत की। पहले बल्लेबाजी करते हुए बांग्लादेश ए महज 112 रन पर सिमट गया। सौरभ कुमार और नवदीप सैनी ने भारत ए की तरफ से बेहतरीन गेंदबाजी की। वहीं भारत ए की तरफ से यशस्वी जायसवाल और कप्तान अभिमन्यु ईश्वरन की सलामी जोड़ी ने 120 रन की नाबाद साझेदारी कर भारत को पहली पारी में आठ रन की बढ़त दिला दी है।

पहला दिन पूरी तरीके से भारत ए के पक्ष में रहा। बांग्लादेश के खिलाड़ियों में ऐसा खौफ दिखा कि उन्होंने एक शानदार मौका गंवा दिया। भारत ए की पारी के नौवें ओवर में एक अजीब घटना हुई जब ईश्वरन ने तेज गेंदबाज खालिद अहमद की गेंद का बचाव करने के बाद तेजी से सिंगल लेने के लिए भागे। लेकिन मिड ऑफ पर तैनात फील्डर ने तेजी से गेंद को फील्ड कर नॉन-स्ट्राइकर छोर पर लगी विकटों की गिल्लयां बिखेल दी।

बांग्लादेश ए ने नहीं लिया रिव्यू

अहमद ने तुरंत अपील की और बांग्लादेश ए के बाकी खिलाड़ियों ने भी ऐसा ही किया, लेकिन अंपायर ने अपील को खारिज कर दिया। इस पर बांग्लादेश के कप्तान ने डीआरएस का इस्तेमान नहीं किया। जबकि रिप्ले में दिखाया कि ईश्वरन मिलीमीटर से क्रीज से चूक गए थे।

भारत ए ने ली आठ रन की बढ़त

मैच के पहले दिन की बात करें तो इंडिया ए ने टॉस जीतकर मेजबान टीम को पहले बल्लेबाजी के लिए कहा। सौरभ ने चार विकेट चटकाए, जबकि सैनी ने तीन विकेट लिए। इससे बांग्लादेश की टीम 45 ओवर में सिर्फ 112 रन पर ऑल-आउट हो गई। मुकेश कुमार ने दो और जयंत यादव ने एक विकेट लिया। मोसादेक हुसैन ने बांग्लादेश ए के लिए 88 गेंदों में 63 रन बनाए।

भारत ए की तरफ से सलामी बल्लेबाजों ने अर्धशतक जड़े। यशस्वी ने 106 गेंदों में 61 रनों की नाबाद पारी खेली, जबकि ईश्वरन 111 गेंदों पर 53 रन बनाकर नाबाद रहे। भारत ने पहले दिन की समाप्ति पर आठ रन की बढ़त के साथ 36 ओवरों में बिना विकेट खोए 120 रन बना लिए हैं।

यह भी पढ़ें- रवि शास्त्री ने सूर्यकुमार की इस महान खिलाड़ी से कर दी तुलना, बताया दुनिया का सबसे विस्फोटक बल्लेबाज

यह भी पढ़ें- IND vs NZ ODI: आखिरी मैच में भी बारिश का अनुमान, ऐसा हुआ तो भारत गंवा देगा सीरीज

Edited By: Umesh Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट