Move to Jagran APP

Mahindra & Mahindra Q4 Result: महिंद्रा ने तोड़े कमाई के सभी रिकॉर्ड, चौथी तिमाही में 2637 करोड़ रुपये का लाभ

Mahindra Mahindra Q4 Net Profit महिंद्रा ने कहा कि 31 मार्च को समाप्त चौथी तिमाही के लिए कर के बाद उसका समेकित लाभ 18 प्रतिशत बढ़कर 2637 करोड़ रुपये हो गया है। ऐसा मोटर वाहन कृषि उपकरण और वित्तीय सेवा व्यवसाय वर्टिकल में जबरदस्त प्रदर्शन के चलते हुआ है।

By Rammohan MishraEdited By: Rammohan MishraPublished: Fri, 26 May 2023 04:16 PM (IST)Updated: Fri, 26 May 2023 04:16 PM (IST)
Mahindra & Mahindra Q4 Result FY 2022-23 declared by company

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। देश की पॉपुलर कंपनी Mahindra & Mahindra को पिछले वित्तीय वर्ष जबरदस्त मुनाफा हुआ है। कंपनी ने ये जानकारी एक आधिकारिक घोषणा करते हुए दी है। महिंद्रा एंड महिंद्रा को वित्तीय वर्ष 2022-23 की  चौथी तिमाही में 18 प्रतिशत का सामेकित लाभ प्राप्त हुआ है। आइए इस बारे में विस्तार से जान लेते हैं।  

Mahindra & Mahindra की हुई अच्छी कमाई

महिंद्रा एंड महिंद्रा ने शुक्रवार को कहा कि 31 मार्च को समाप्त चौथी तिमाही के लिए कर के बाद उसका समेकित लाभ 18 प्रतिशत बढ़कर 2,637 करोड़ रुपये हो गया है। कंपनी का कहना है कि ये लाभ मोटर वाहन, कृषि उपकरण और वित्तीय सेवा व्यवसाय वर्टिकल में जबरदस्त प्रदर्शन के चलते हुआ है।

आपको बता दें कि मुंबई स्थित कंपनी ने वित्त वर्ष 2021-22 की जनवरी-मार्च तिमाही में 2,237 करोड़ रुपये के कर के बाद लाभ (पीएटी) की सूचना दी थी। वहीं, FY23 की चौथी तिमाही में कंपनी का राजस्व बढ़कर 32,366 करोड़ रुपये हो गया, जबकि एक साल पहले की अवधि में यह 25,934 करोड़ रुपये ही था। 31 मार्च, 2023 को समाप्त वर्ष के लिए कंपनी ने वित्त वर्ष 2022 में 6,577 करोड़ रुपये से 56 प्रतिशत बढ़कर 10,282 करोड़ रुपये का समेकित PAT पोस्ट किया है।

M&M ने किया अब तक का सबसे बेहतर प्रदर्शन

कंपनी ने कहा कि FY23 का लाभ किसी वित्तीय वर्ष में कंपनी द्वारा रिपोर्ट किया गया अब तक का सबसे अधिक लाभ है। पिछले वित्त वर्ष में Mahindra & Mahindra का राजस्व बढ़कर 1,21,269 करोड़ रुपये हो गया है, जबकि 2021-22 के वित्तीय वर्ष में यह 90,171 करोड़ रुपये था। इस हिसाब से 34 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।

Mahindra & Mahindra के प्रबंध निदेशक और सीईओ अनीश शाह ने कहा, "यह समूह के लिए एक ब्लॉकबस्टर वर्ष रहा है। ऑटो ने रिकॉर्ड तोड़ लॉन्च के साथ रास्ता दिखाया, क्योंकि हमने एसयूवी राजस्व बाजार हिस्सेदारी के लिए नंबर 1 स्थान हासिल किया है।" उन्होंने कहा कि हल्के कॉमर्शियल वाहन (एलसीवी), कृषि उपकरण और इलेक्ट्रिक तिपहिया ने कंपनी के नेतृत्व की स्थिति को मजबूत किया है।

 


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.