Move to Jagran APP

इस बैंक में Savings Account पर मिल रहा Bank FD जैसा ब्याज, एक साल में मिलेगा इतना रिटर्न

IDFC First Bank Interest Rates आईडीएफसी फर्स्ट बैंक ने सेविंग अकाउंट की ब्याज दर में बढ़ोतरी कर दी है। इसके बाद बैंक के अकाउंट होल्डर को अधिकतम 6.75 प्रतिशत का ब्याज दिया जा रहा है। (जागरण फाइल फोटो)

By Abhinav ShalyaEdited By: Abhinav ShalyaSat, 18 Feb 2023 01:47 PM (IST)
इस बैंक में Savings Account पर मिल रहा Bank FD जैसा ब्याज, एक साल में मिलेगा इतना रिटर्न
IDFC First Bank Savings Account Interest Rates

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। आईडीएफसी फर्स्ट बैंक (IDFC First Bank) की ओर से सेविंग अकाउंट की ब्याज दरों में इजाफा कर दिया है। बैंक द्वारा ये एलान ऐसे समय पर किया है, जब 8 फरवरी, 2023 को भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) की ओर से रेपो रेट को 25 आधार अंक बढ़ाकर 6.50 प्रतिशत कर दिया है।

इस बढ़ोतरी के बाद आईडीएफसी फर्स्ट बैंक को सेविंग अकाउंट पर अधिकतम 6.75 प्रतिशत की ब्याज मिल रही है। बैंक की वेबसाइट के अनुसार, नई ब्याज दरें 15 फरवरी, 2023 से लागू हो गई हैं।

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक सेविंग अकाउंट पर ब्याज दर

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक सेविंग अकाउंट में 10 लाख रुपये तक की जमा पर अब 4.00 प्रतिशत का ब्याज दे रहा है। अगर आपके खाते में 10 लाख रुपये से लेकर एक करोड़ रुपये तक है, तो आपको 6.25 प्रतिशत की ब्याज मिलेगी। वहीं, अगर आपका अकाउंट बैलेंस एक करोड़ से लेकर 50 करोड़ रुपये के बीच में है, तो फिर बैंक की ओर से 6.75 प्रतिशत का वार्षिक ब्याज दिया जाएगा।

इसके अलावा सेविंग अकाउंट पर 50 से 100 करोड़ रुपये होने पर बैंक 5.00 प्रतिशत का ब्याज दिया जा रहा है। 100 से 200 करोड़ रुपये के बैलेंस पर 4.50 प्रतिशत ब्याज दिया जाएगा। 200 करोड़ रुपये से अधिक के बैलेंस पर 3.50 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा।

ब्याज का कैलकुलेशन

बैंक ने बताया कि अगर आपका बैलेंस दस लाख रुपये तक है। तो आपको 4 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा। अगर बैलेंस 1.10 करोड़ रुपये है, फिर आपको 10 लाख रुपये पर 4 प्रतिशत, 90 लाख रुपये पर 6.25 प्रतिशत और बाकी बचे 10 लाख रुपये पर 6.75 प्रतिशत की दर से भुगतान किया जाएगा।

ये भी पढ़ें-

TRAI की टेलीकॉम कंपनियों को चेतावनी, सेवाओं की क्वालिटी सुधारने के तुरंत लें एक्शन

Amazon में वर्क फ्रॉम होम हुआ खत्म, अब कर्मचारियों को इतने दिन करना होगा ऑफिस से काम