नई दिल्ली, पीटीआई। केंद्र सरकार ने वित्त वर्ष 2023-24 के आम बजट में देशभर की विभिन्न मेट्रो परियोजनाओं के लिए कुल 19,518 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में अपने बजट भाषण में कहा कि अमृत काल के लिए हमारी दृष्टि में मजबूत लोक वित्त और मजबूत वित्तीय क्षेत्र के साथ प्रौद्योगिकी संचालित और ज्ञान आधारित अर्थव्यवस्था शामिल है। इसे प्राप्त करने के लिए सबका साथ सबका प्रयास के जरिए जन भागीदारी आवश्यक है।

कुछ सालों से हो रहा है सभी मेट्रो परियोजनाओं के लिए बजट का आवंटन

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि वित्त वर्ष 2022-23 में यह आवंटन 19,130 करोड़ रुपये था। हालांकि, बजट दस्तावेजों के अनुसार, 2022-23 के संशोधित बजट अनुमान में यह 15,628 करोड़ था। दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हाल के वर्षों में वित्त मंत्रालय सिर्फ दिल्ली मेट्रो के बदले देशभर की सभी मेट्रो परियोजनाओं के लिए बजट आवंटित करता रहा है। इस वर्ष के आवंटन में 4,471 करोड़ रुपये का इक्विटी निवेश, 1,324 करोड़ रुपये का कर्ज और 13,723 करोड़ रुपये मदद के रूप में आवंटित किए गए हैं।

दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ के बीच चल रहा है रैपिड रेल का कार्य

उन्होंने कहा कि आरआरटीसी के लिए 3,596 करोड़ रुपये केंद्र ने देश की पहली क्षेत्रीय त्वरित परिवहन प्रणाली (आरआरटीएस) परियोजना के लिए राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र परिवहन निगम (एनसीआरटीसी) को 3,596 करोड़ रुपये का आवंटन किया है। यह पिछले बजट में परिव्यय से करीब 23 प्रतिशत कम है। वित्त वर्ष 2022-23 के बजट में एनसीआरटीसी को 4,710 करोड़ रुपये आवंटित किए थे। आरआरटीएस परियोजना के तहत दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ के बीच रैपिड रेल के कार्य चल रहा है। इस कारिडोर में विभिन्न क्षेत्रों में काम तेजी से चल रहा है। इस कारिडोर के तहत कई स्टेशन पूरा होने के करीब पहुंच चुके हैं।

150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी रैपिड रेल

एनसीआरटीसी ने कहा कि प्राथमिकता वाले क्षेत्र में कार्य पूरा होने के करीब है। रैपिड रेल का ट्रायल शुरूदिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ कारिडोर पर साहिबाबाद से दुहाई के बीच सबसे पहले रैपिड रेल चलाई जाएगी। पहले चरण में शुरू किए जाने वाले करीब 18 किलोमीटर लंबे इस रूट पर रैपिड रेल का ट्रायल शुरू किया जा चुका है। एनसीआरटीसी की योजना इस पूरे कारिडोर पर 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से रैपिड रेल चलाने की है।

यह भी पढ़ें-

Budget 2023: विदेश जाना हुआ महंगा, जेब पर पड़ेगा बोझ; TCS की दर 20 फीसद हुई

Budget 2023: आम चुनाव से पहले सरकार की महिलाओं, बुजुर्गों, करदाताओं को बड़ी सौगात, जानें किसको क्या मिला?

 

Edited By: Sonu Gupta