मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली [जाब्यू]। रिजर्व बैंक ने होम व ऑटो लोन महंगे करने का रास्ता भले ही खोल दिया हो, लेकिन छोटे निवेशकों व ग्राहकों को महंगाई से बचाने के दूसरे विकल्प भी मुहैया कराने शुरू कर दिए हैं। केंद्रीय बैंक ने लोगों को महंगाई से बचाने वाले दस वर्षीय बचत पत्र जल्द लांच करने का एलान किया है। ये बचत बांड लोगों को सोने में निवेश का विकल्प भी उपलब्ध कराएंगे।

पढ़ें : दिवाली से पहले आरबीआई ने बिगाड़ा मूड, बढ़ेगा ईएमआई का बोझ!

दूसरी तिमाही की मौद्रिक नीति की समीक्षा में रिजर्व बैंक गवर्नर रघुराम राजन ने कहा है कि महंगाई सूचकांक से जुड़े राष्ट्रीय बचत पत्रों को आम निवेशकों के लिए इसी साल नवंबर या दिसंबर में बाजार में उतार दिया जाएगा। इन बचत पत्रों में तय ब्याज दर होगी और उसमें महंगाई की दर जुड़ जाएगी। ब्याज छमाही आधार पर मिलेगा, लेकिन उसका भुगतान एक साथ परिपक्वता के वक्त होगा। इन बचत पत्रों की बिक्री आम निवेशकों को बैंकों द्वारा की जाएगी।

वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने इस तरह के बचत बांड लाने का एलान चालू वित्त वर्ष के आम बजट में किया था। महंगाई से होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए सोने में बढ़ने निवेश को देखते हुए इन बचत पत्रों को विकल्प के तौर पर प्रस्तुत किया गया है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप