मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

इस्लामाबाद, (पीटीआइ)। भारत के साथ व्यापार संबंध तोड़ने के फैसले का पाक पर बुरा असर पड़ रहा है। खबरों के मुताबिक, पाकिस्तान में जीवनरक्षक दवाओं और अन्य जरूरी चीजों की कमी होने का खतरा पैदा हो गया है। पाकिस्तान के एक उद्योग संगठन ने इसे देखते हुए सरकार से फिलहाल आयात नियमों को आसान करने की अपील की है। एक स्थानीय अखबार डॉन ने इसकी खबर दी है। पाक के अखबार डॉन के अनुसार, उद्योग संगठन एम्पलायर्स फेडरेशन ऑफ पाकिस्तान (ईएफपी) ने कहा की है कि भारत से कच्चा माल या तैयार उत्पाद के रूप में आयातित जीवनरक्षक दवाएं बाजार से समाप्त हो सकती हैं। इसे देखते हुए वैकल्पिक स्रोत की व्यवस्था नहीं हो जाने तक आयात में कुछ ढील दी जाने की मांग की गई है।
यह भी पढ़ें: जानिए क्या हैं Gratuity के नियम और कैसे करते हैं इसका कैलकुलेशन

गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त किए जाने के बाद पाकिस्तान ने भारत के साथ व्यापार संबंधों को पूरी तरह तोड़ लिया है। ईएफपी ने एयरपोर्ट या बंदरगाहों पर पहुंच चुके भारतीय वस्तुओं को बाजार में बिकने की छूट देने की भी अपील की। उसने कहा कि जो उत्पाद पहले ही एयरपोर्ट और बंदरगाहों पर पहुंच चुके हैं, उन्हें स्थानीय बाजारों में बिकने दिया जाना चाहिए। ईएफपी के उपाध्यक्ष जाकी अहमद खान ने शनिवार को एक बयान में कहा कि जीवनरक्षक दवाएं बनाने के लिए पाकिस्तान की दवा कंपनियों ने भारत से जिन सक्रिय औषधीय अवयवों का आयात किया है, उनका इस्तेमाल करने की छूट दी जानी चाहिए।
यह भी पढ़ें: अगर पैसों की है इमरजेंसी तो इन विकल्पों से तुरंत मिलेगी नकदी

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप