नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। Gold Price: अगर आप त्योहारों पर सोना खरीदने की तैयारी कर रहे हैं तो यह खबर आपको चौंका सकती है। अगर आप त्योहारों पर सोना खरीदने की तैयारी कर रहे हैं तो आपको इसकी बहुत अधिक कीमत चुकानी पड़ सकती है। सोने की आपूर्ति करने वाले बैंकों ने भारत में सोने की आवक घटा दी है। भारत में आने वाले सोने को चीन और तुर्की के बाजारों में भेजा जा रहा है। बैंकों ने त्योहारों से पहले भारत आने वाले शिपमेंट में कटौती की है।

समाचार एजेंसी रायटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में सोने की आपूर्ति करने वाले आईसीबीसी स्टैंडर्ड बैंक, जेपी मॉर्गन और स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक सोने के आयात में कटौती कर रहे हैं। आमतौर पर त्योहारों से पहले ये बैंक अधिक मात्रा में  सोने का आयात करते हैं और इसे अपनी तिजोरियों में जमा करते हैं। लेकिन इस बार सूरते-हाल कुछ अलग हैं।

कितनी है भारत में सोने की मांग

सोने की आपूर्ति करने वाले बैंकों ने चीन और तुर्की के साथ अन्य बाजारों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रमुख त्योहारों से पहले भारत में आने वाले शिपमेंट की संख्या में कमी कर दी है। ये सोना उन देशों को भेजा जा रहा है, जहां बैंकों को बेहतर प्रीमियम मिल रहा है। इसके चलते भारत में सोने की किल्ल्त हो सकती है। भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा सोने का बाजार है। इसको देखते हुए भारतीय खरीदारों को आने वाले पीक त्योहारी सीजन सोना खरीदने के लिए अधिक कीमत देनी पड़ सकती है।

भारत में प्रमुख सोने के आपूर्तिकर्ता आईसीबीसी स्टैंडर्ड बैंक, जेपी मॉर्गन और स्टैंडर्ड चार्टर्ड की तिजोरियां खाली पड़ी हैं और उनके पास एक साल पहले जमा किए गए सोने के मुकाबले केवल 10% गोल्ड जमा है। जहां आदर्श रूप से साल के इस सीजन में कुछ टन सोना तिजोरियों में होना चाहिए, अब केवल कुछ किलो है।

बढ़ सकती है सोने की कीमत

भारत में सोने की बढ़ती कीमत का असर कई शहरों में दिखना शुरू हो गया है। सर्राफा व्यापारियों का कहना है कि बैंक वहीं बेचेंगे जहां उन्हें अधिक कीमत मिलेगी। चीन और तुर्किये के बाजार अब सोने के लिए अधिक पैसे की आपूर्ति कर रहे हैं। चीन और तुर्किये में खरीदार अभी बहुत अधिक प्रीमियम का भुगतान कर रहे हैं। यह भारतीय बाजार की तुलना में बहुत कम है।

भारत में कम हुआ सोने का आयात

सितंबर में भारत में सोने का आयात एक साल पहले की तुलना में 30% गिरकर 68 टन हो गया, जबकि तुर्किये में सोने का आयात 543% बढ़ गया। अगस्त में हांगकांग के माध्यम से चीन में शुद्ध सोने का आयात लगभग 40% उछलकर चार साल के उच्च स्तर पर पहुंच गया है। अक्टूबर में दशहरा, दिवाली और धनतेरस जैसे त्यौहार पड़ रहे हैं, जिसमें सोना खरीदना शुभ माना जाता है। इन त्योहारों के बाद शादियों का सीजन शुरू हो जाता है। इसको देखते हुए इस बात का अनुमान लगाना अधिक मुश्किल नहीं है कि भारत में सोने की कीमत में तेज उछाल आ सकता है।

ये भी पढ़ें-

DA Hike: केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का नोटिफिकेशन जारी, जानिए कब मिलेगा डीए का पैसा

मंगलवार को शेयर बाजार में छप्पर फाड़कर बरसा पैसा, एक दिन में 5.66 लाख करोड़ रुपये बढ़ा निवेशकों का मुनाफा

Edited By: Siddharth Priyadarshi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट