जयपुर, बिजनेस डेस्क। Gautam Adani: दुनिया के तीसरे सबसे अमीर व्यक्ति गौतम अदाणी ने शुक्रवार को राजस्थान में 65,000 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा की है। गौतम अदाणी ने अगले पांच से सात साल में राजस्थान में 10,000 मेगावॉट सौर ऊर्जा क्षमता स्थापित करने, सीमेंट संयंत्र का विस्तार करने और जयपुर हवाई अड्डे के मॉडिफिकेशन लिए 65,000 करोड़ रुपये के निवेश का एलान किया है।

पोर्ट-टू-एनर्जी में क्षेत्र में बिजनेस करने वाला अदाणी समूह घरों और उद्योगों तक सीएनजी पाइप गैस पहुंचाने के साथ-साथ अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में काम कर रहा है। वह बिजली ट्रांसमिशन लाइन बिछाने के अलावा सिटी गैस इंफ्रास्ट्रक्चर में भी काम करता है।

कहां-कहां निवेश करेगा अदाणी समूह

राजस्थान 2022 सम्मेलन में बोलते हुए गौतम अदाणी ने कहा कि अदाणी समूह की राज्य में पहले से ही अच्छी उपस्थिति है। समूह राजस्थान में एक थर्मल पावर प्लांट संचालित करने के अलावा सोलर पार्क की स्थापना और राज्य की बिजली उत्पादन इकाइयों को कोयले की आपूर्ति करता है। इसके अलावा अदाणी समूह 10,000 मेगावाट अक्षय ऊर्जा उत्पादन क्षमता के लिए 50,000 करोड़ रुपये का निवेश कर रहा है।

कार्यक्रम में बोलते हुए गौतम अदाणी ने कहा कि यह क्रमिक तरीके से अगले 5 वर्षों में चालू हो जाएगा। समूह ने सिर्फ एक हफ्ते पहले राजस्थान में दुनिया के सबसे बड़े पवन-सौर हाइब्रिड पावर प्लांट का कमर्शियल ऑपरेशन शुरू किया है।

अंबुजा सीमेंट्स और एसीसी के अधिग्रहण के बाद अदाणी समूह अपनी सीमेंट निर्माण क्षमता को दोगुना करने पर विचार कर रहा है। गौतम अदाणी ने कहा कि हम राज्य में अपनी सीमेंट निर्माण क्षमता को दोगुना करने के लिए और 7,000 करोड़ रुपये के निवेश की उम्मीद करते हैं। बता दें कि अदाणी समूह जयपुर हवाईअड्डे का संचालक भी है। समूह औद्योगिक, वाणिज्यिक, परिवहन और घरेलू उपभोक्ताओं के लिए स्वच्छ ईंधन की उपलब्धता में तेजी लाने के लिए पाइप्ड प्राकृतिक गैस और सीएनजी की आपूर्ति के लिए एक नेटवर्क भी विकसित करेगा और नवीकरणीय ऊर्जा को स्थानांतरित करने के लिए नई ट्रांसमिशन लाइन की स्थापना करेगा।

गौतम अदाणी की ऊंची छलांग

अदाणी समूह ने 1988 में एक कमोडिटी ट्रेडर के रूप में शुरुआत की। इसके बाद बंदरगाह, हवाई अड्डा, सड़क, बिजली, नवीकरणीय ऊर्जा, ट्रांसमिशन, गैस डिस्ट्रीब्यूशन, रियल एस्टेट, एफएमसीजी, सीमेंट, डाटा सेंटर और मीडिया व्यवसाय में समूह ने तेजी से विस्तार किया है। यह ग्रीन हाइड्रोजन पर भी काम कर रहा है।

अदाणी समूह इन दिनों ग्रीन हाइड्रोजन पर दांव लगा रहा है। समूह पहले ही राजस्थान के कई औद्योगिक क्षेत्रों में 35,000 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश कर चुका है। ये निवेश 1,320 मेगावाट (मेगावाट) कावई बिजली संयंत्र और 10,000 मेगावाट सौर पार्क में किया गया है जो 1,500 मेगावाट हरित ऊर्जा का उत्पादन करता है। इसके अलावा इसने 4,000 मेगावाट से अधिक नवीकरणीय परियोजनाओं को शुरू करने में 20,000 करोड़ रुपये का निवेश किया है। समूह ताप बिजली संयंत्रों को कोयले की आपूर्ति भी करता है।

(एजेंसी इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें- 

Startups को प्रोत्साहन देने के लिए केंद्र सरकार की नई योजना, बिना कुछ गिरवी रखे मिलेगा लोन

Mukesh Ambani: रिलायंस को ग्लोबल बनाने की तैयारी! सिंगापुर में फैमिली ऑफिस खोलने जा रहे मुकेश अंबानी

जानें मार्केट के Top 5 स्टॉक्स जो देंगे शानदार रिटर्न्स - https://bit.ly/3RxtVx8

"

Edited By: Siddharth Priyadarshi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट