नई दिल्ली। जब से क्रिकेट का छोटा रिचार्ज यानी टी-20 आया है तब से खिलाड़ियों की तो निकल पड़ी है लेकिन टेलीविजन मैच प्रसारण करने वाले चैनलों की भी बल्ले-बल्ले हो गई है। विज्ञापन देने वाली कंपनियां क्रिकेट के बहाने करने कारोबार को चमकाने का काम कर रही हैं। यहां कुछ ही सैकेंड में लाखों का कारोबार किया जाता है। ऐसे में क्रिकेट में किसी टीम की हार हो या जीत, चैनल वालों की कमाई तो पक्की है। हालांकि, आईपीएल की स्पॉट फिक्सिंग मामले ने इसे दागदार बना दिया लेकिन चाहे कुछ भी तो भारत में क्रिकेट तो फिर भी देखा ही जाएगी। इसलिए कंपनियों ने त्योहारी सीजन में शुरू होने वाली भारत-आस्ट्रेलियासीरीज पर पूरा दांव लगा दिया है।

ये है पत्‍ि‌नयों का 'आइपीएल' मैच, खेलें और सुधारें फाइनेंशियल हेल्थ

एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के मुताबिक, ब्रॉडकास्टर ईएसपीएन स्टार ने देश में होने वाले सात वनडे इंटरनेशनल और एक टी-20 मैच की सीरीज के लिए सारे एयरटाइम बेच दिए हैं। ईएसपीएन सॉफ्टवेयर इंडिया के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, माइक्रोमैक्स और हीरो मोटोकॉर्प संयुक्त रूप से सीरीज को स्पॉन्सर कर रहे हैं। इसके अलावा, एसोसिएट स्पॉन्सर में भारती एयरटेल, माइक्रोसॉफ्ट, सोनी, मारुति सुजूकी, एक्साइड, टाटा मोटर्स और वी-चैट समेत 30 विज्ञापनदाता हैं।

इनका बैंक बैलेंस जल्द सचिन-धौनी के खातों को दिखाएगा आंख

वैसे भी इस बात में कोई शक नहीं है कि क्रिकेट को भारत में सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है। ब्रॉडकास्टर्स को उम्मीद है कि वह इस सीरीज से 200 करोड़ रुपये जुटा सकेंगे। मीडिया बायर्स के अनुसार, ईएसपीएन इस बार त्योहारी मौसम को भुनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा। मैच भारत में ही हो रहे हैं इसलिए विज्ञापनों की दरें आईपीएल के बराबर रखी गई हैं। इसके तहत वनडे इंटरनेशनल मैचों में प्रत्येक 10 सैकेंड के 4 लाख रुपये और टी-20 मैच में 10 सैकेंड के 7 लाख रुपये का रेट है।

कोई कैसे भूले इन शब्दों को, दिल में बस चुके हैं ये विज्ञापन

हालांकि, क्रिकेट से चैनलों को होने वाले कारोबार ठंडा ही पड़ा है। पिछले सप्ताह, स्टार इंडिया ने मार्च 2014 तक भारत में होने वाले सभी इंटरनेशनल क्रिकेट मैचों के लिए स्पॉन्सरशिप राइट का टाइटल 2 करोड़ रुपये में खरीदा था। वहीं, यह रकम पिछले साल भारती एयरटेल द्वारा भुगतान की गई राशि से 40 फीसद कम है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप