नई दिल्ली। आरबीआइ द्वारा रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में बदलाव किए जाने का वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने स्वागत किया है। सिन्हा ने इस मुद्दे पर संसद भवन में प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह देश के सभी नागरिकों के लिए एक स्वागत योग्य कदम है, क्योंकि हर कोई निकट समय में भारत की अर्थव्यवस्था में होने वाली बढ़ोत्तरी को देख रहा है।

सिन्हा ने आगे कहा, हम संसद में कह चुके हैं कि हम बहुत विवेकपूर्ण राजकोषीय समेकन रोड मैप की राह पर चल रहे हैं, जोकि निश्चित तौर पर देश की अर्थव्यवस्था को ऊंचाई पर ले जाएगा। बुनियादी ढांचे में निवेश और 3.6% से नीचे राजकोषीय घाटे के बीच संतुलन कायम करने की भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा सराहना की गई है।

दरअसल, वित्तीय वर्ष 2015-16 का बजट पेश होने के बाद आरबीआइ ने रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में बदलाव किया है। आरबीआइ ने रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती की है। इस कटौती के बाद रेपो रेट अब 7.5 फीसद हो गया है, इससे पहले यह 7.75 फीसद था। रेपो रेट में कटौती के बाद ब्याद दरों और ईएमआइ में कमी होने की उम्मीद है।

पढ़ें : आरबीआइ ने घटाया रेपो रेट, घटेगी ईएमआइ

Posted By: Test2 test2

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस