सिवान। पूर्वोत्तर रेलवे के दारौंदा-महाराजगंज रेलखंड पर विद्युतीकरण कार्य के लिए जगह-जगह पोल लगाने का कार्य शुरू हो गया है। कार्य में तेजी देख कर अब लोगों में यह उम्मीद जग गई है कि इस रेलखंड पर विद्युत से चलने वाली ट्रेनों का परिचालन जल्द होगा। इस संबंध में दारौंदा जंक्शन के रेल अधीक्षक मनोज कुमार ने बताया कि दारौंदा-महाराजगंज रेलखंड में विद्युतीकरण का कार्य शुरू हो गया है। इसके बाद दारौंदा से मशरख तक विद्युतीकरण किया जाएगा। विदित हो कि दारौंदा-महाराजगंज रेलखंड की शुरुआत 1905 में व्यापारिक केंद्र होने के कारण की गई थी, परंतु 80 के दशक में बंद हो गई थी। जब सभी प्रमुख रेलवे लाइन को बड़ी रेललाइन में परिवर्तन का दौर चलने के दौरान बंद कर दिया गया था। पुन: स्थापना रेल के अंतर्गत 2003 में तत्कालीन रेलमंत्री नीतीश कुमार ने इस रेलखंड की शुरुआत की। पहले रेल बस चलाई गई, इसके बाद डीएमयू ट्रेन चली। इसके बाद दारौंदा-मशरख रेल खंड पर फिलहाल दो गाड़ी का परिचालन किया जा रहा है।

Edited By: Jagran