Move to Jagran APP

Bihar News: भविष्य में बिहार पुलिस में 2.28 लाख जवानों की होगी भर्ती, सोनपुर मेले में डीजी ने दिया भरोसा

Bihar Police Recruitment सोनपुर मेले में बुधवार को आए बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस के महानिदेशक (डीजी) अमरेंद्र कुमार आंबेडकर ने कहा कि पुलिस संख्या बल में एक लाख की वृद्धि की गई है। बिहार में निकट भविष्य में 02 लाख 28 हजार और पुलिस बल की भर्ती होगी। बिहार पुलिस को कई नई चुनौतियां मिल रही हैं। इस कदम से समस्या दूर होगी।

By Shankar SinghEdited By: Sanjeev KumarPublished: Thu, 30 Nov 2023 05:02 PM (IST)Updated: Thu, 30 Nov 2023 05:02 PM (IST)
भविष्य में बिहार पुलिस में 2.28 लाख जवानों की होगी भर्ती (जागरण)

संवाद सहयोगी, सोनपुर (सारण)। Bihar Police Recruitment: सोनपुर मेले में बुधवार को आए बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस के महानिदेशक (डीजी) अमरेंद्र कुमार आंबेडकर ने कहा कि पुलिस संख्या बल में एक लाख की वृद्धि की गई है। बिहार में निकट भविष्य में 02 लाख 28 हजार और पुलिस बल की भर्ती होगी।

बिहार पुलिस को कई नई चुनौतियां मिल रही हैं। मेट्रो, एरोड्रम, स्टेट हाइवे तथा नेशनल हाइवे की सुरक्षा का भार भी है। इन बढ़ती जिम्मेदारियों के बावजूद बिहार पुलिस आम लोगों के प्रति संवेदनशील है। डीजी सोनपुर मेले में अपराध अनुसंधान विभाग की ओर से लगी अपराध निरोध प्रदर्शनी तथा पुलिस प्रदर्शनी उद्घाटन के बाद समारोह को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि बिहार एकमात्र ऐसा राज्य है, जहां एक साथ 25 हजार पुलिसकर्मियों का प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण का यह क्रम जारी है। किसी भी घटना की सूचना के 17 मिनट के अंदर घटनास्थल पर पुलिस पहुंच जाती है। इमरजेंसी सेवा में भी हम काफी बदलाव कर रहे हैं।

महिलाओं की सुरक्षा के मद्देनजर 850 हेल्प डेस्क कार्यरत

अब एफएसएल टीम की सभी जिलों में मोबाइल व्यवस्था की गई है। अब इसके लिए पटना नहीं जाना होगा। महिलाओं की सुरक्षा के मद्देनजर 850 हेल्प डेस्क कार्यरत हैं। डीजी ने कहा कि इस प्रदर्शनी का उद्देश्य पुलिस विभाग द्वारा लिए गए नये निर्णयों से आम जनता को अवगत कराना तथा उन्हें जागृत करना है। उन्होंने कहा कि सभी जगह साइबर क्राइम से संबंधित थाने खुले हैं, जनता को उसका लाभ लेना चाहिए। सभी जिलों में ट्रैफिक थाने की भी स्थापना की गई है।

उद्घाटन समारोह के अंत में धन्यवाद ज्ञापन सीआईडी की डीआईजी गरिमा मलिक ने किया। इसके पहले सीआईडी के अपर पुलिस महानिदेशक जितेंद्र कुमार ने पुलिस की उपलब्धियां तथा अपराध निरोध प्रदर्शनी के इतिहास को बताया। इस प्रदर्शनी में पुलिस के विभिन्न कोषांगों के स्टाल लगाए गए हैं।

इस अवसर पर अपराध अनुसंधान विभाग के एडीजी जितेंद्र कुमार, सुधांशु कुमार, स्पेशल ब्रांच के एडीजी सुनील कुमार, एडीजी जितेंद्र सिंह गंगवार, एडीजी पारसनाथ, संजय सिंह के साथ सारण एसपी डा. गौरव मंगला, सोनपुर के एसडीओ कुमार निशांत विवेक तथा डीएसपी नवल किशोर मौजूद थे।

एसटीएफ व एटीएस ने दिखाई दक्षता

 इस अवसर पर एसटीएफ तथा एटीएस के टीम ने अपनी दक्षता दिखाई। दिखाया कि एक मिनट के भीतर कैसे अत्याधुनिक हथियारों के खुले हुए पार्ट को कस दिया जाता है तथा आतंकवाद से जुड़े किसी आतंकी को उनका डाग स्क्वायड कैसे पकड़ लेता है।

इससे पहले पर्यटन विभाग के मुख्य पंडाल में बिहार पुलिस की ओर से सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। जिसमें सजा दो घर को गुलशन सा मेरे सरकार आए हैं तथा यहां डाल-डाल पर सोने की चिड़िया करती है बसेरा आदि गानों की प्रस्तुति की गई।

यह भी पढ़ें

KK Pathak: कितने पढ़े लिखे हैं केके पाठक? इन डिग्रियों के साथ UPSC में लहराया था परचम

KK Pathak: बिहार में डर तो नहीं लग रहा? केके पाठक के सवाल पर यूपी की शिक्षिकाओं ने दिया गजब का जवाब


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.