सारण। शिक्षा हासिल करने के लिए शहर की ओर अंधी दौड़ लगाने वालों की शहर में शिक्षा की अवधारण को ग्रामीण इलाके की बेटियों ने नियमित अध्ययन, लक्ष्य के प्रति एकाग्रता के बूते इंटरमीडिएट परीक्षा में बेहतर परिणाम के बूते बदल दी है। इंटरमीडिएट परीक्षा में लड़कियों का प्रदर्शन लड़कों की तुलना में बेहतर है। मढ़ौरा के अरुणालम में पढ़कर आइएससी में 69 फीसद अंक प्राप्त करने वाली अनुराधा कुमारी, 68 फीसद अंक प्राप्त करने वाली नेहा एवं 66 प्रतिशत अंक हासिल करने वाली शिलू कुमारी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में मार्गदर्शन के लिए शिक्षकों की कमी नहीं है। मेहनत व लगन से सफलता गांव में रहकर भी हासिल किया जा सकता है। बुधवार को संचालक आलम के नेतृत्व में प्रथम श्रेणी में उतीर्ण होने वाले छात्र छात्राओं को एक

समारोह आयोजित कर सम्मानित किया गया। इनसेट करें:

पिता करते हैं गांव में घूमकर फोटोग्राफी, बेटी बनी स्कूल की टॉपर

संसू नयागांव: स्थानीय थाना क्षेत्र के बरकती कॉम्लेक्स नयागांव बाजार के एक स्टूडियो चलाने तथा ग्रामीण क्षेत्र में घूमकर फोटोग्राफी करने वाले गोपाल सहनी की बेटी कविता ने इंटरमीडिएट परीक्षा में 60.4त्‍‌न अंक लाकर अपने स्कूल की टॉपर बनी। कविता ने माता पिता के साथ ही मोहल्ले का नाम रोशन किया है। बहेरवा गाछी गांव निवासी स्टूडियो संचालक और फोटोग्राफर गोपाल सहनी गृहणी पूजा देवी की पुत्री कविता कुमारी ने नयागांव के ही गोगल ¨सह इंटर कॉलेज में साइंस से पढ़ाई कर 60.4 प्रतिशतअंक हासिल किया है । गोगल ¨सह इंटर कॉलेज नयागांव में कविता के अलावा दीपू कुमारी,ज्योति कुमारी, तथा ¨रकू कुमारी समेत चार छात्राओं ने प्रथम श्रेणी में उतीर्णता हासिल की है।

इनसेट करें:

आइ कॉम में लहलादपुर का आतिफ़ अहमद बना जिला टापर

संसू, लहलादपुर: क्षेत्र के मुरारपुर निवासी और लोक महाविद्यालय हाफिजपुर, बनियापुर के छात्र आतिफ़ अहमद ने कॉमर्स संकाय में •ालिे का टॉपर बनने का गौरव हासिल किया है। लोक महाविद्यालय हाफीजपुर के छात्र आतिफ़ अहमद ने 500 मे 397 अंक प्राप्त किया है। उनको सभी विषयों में विशिष्टता प्राप्त हुआ है। बिलकुल गंवई परिवेश में रहकर •ालिे का टॉपर बने अतिफ अहमद ने यह साबित कर दिया है कि प्रतिभा सिर्फ शहरों में नहीं बसती है। बल्कि गांव में रहकर पढ़ाई कर के शहरी छात्रों से आगे निकला जा सकता है। वह आगे की पढ़ाई पूरी कर भविष्य में चार्टर्ड एकाउंटेंट बनना चाहता है। अपने पांच भाई बहनों में सबसे छोटे अतिक अहमद के जिले में टॉप करने की खबर पर मां, पिताजी,भाई बहन सब उसकी कामयाबी पर खुशी से फूले नहीं समा रहे है।आतिफ़ अहमद के पिता मुशताक अहमद गांव में ही इलेक्ट्रॉनिक्स दुकान चलाते है जबकि मां जाहीदा प्रवीण हाउस वाइफ है। आतिफ़ अहमद अपने सफलता का श्रेय अपने माता पिता,गुरूजन अर¨वद सर और शाहीद आफरीदी को दिया। आतिफ़ अहमद ने बताया कि बचपन से ही उनकी पढ़ाई सरकारी विद्यालयों में हुई जबकि मैट्रिक की पढ़ाई संत जलेशवर अकादमी से की है। उस समय वे स्कूल टापर थे। उसी समय उन्हें टॉप करने की प्रेरणा मिली। इनसेट करें:

संसू जलालपुर : प्रत्यूष कुमार ¨सह ने नीट परीक्षा मे बाजी मार जिले का नाम रौशन किया है.। तारा अमनौर के जानकी देवी और अनिल कुमार ¨सह का पुत्र प्रत्यूष आल इंडिया रैं¨कग 10139 प्राप्त किया है। प्रत्यूष ने बताया कि मेरी सफलता का श्रेय मेरी मौसी राजकुमारी देवी मौसेरे भाई को जाता है। मुझे वे डॉक्टर बनने के लिए बराबर प्रेरित करते रहे।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा जारी राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) के रिजल्ट मे जलालपुर के लाल ने कमाल किया है.। मिश्रवलिया सकडी की शिक्षक कामिनी कुमारी और चंद्रभूषण ¨सह का पुत्र है आदित्य। आदित्य ने बताया कि इस सफलता का श्रेय मेरे चाचाजी सरपंच संघ अध्यक्ष प्रभुनाथ ¨सह का है। उन्होंने मुझमें न्यूरोलोजिस्ट बनने की रूचि जागृत किया । आदित्य का रैंक है 2448। आदित्य ने अपनी सफलता को माता पिता का आशीर्वाद बताया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप