छपरा। सोनपुर प्रखंड के नया गांव पंचायत में पानी टॉवर का निर्माण तो कर दिया गया। लेकिन संवेदक द्वारा पंचायत के घनी आबादी में जलापूर्ति के लिए पाइप लाइन का विस्तार नहीं किया गया। जिससे घनी आबादी में जलापूर्ति नहीं हो रही है।

विदित हो कि ग्रामीण पेय जल योजना के तहत सोनपुर प्रखंड के नयागांव पंचायत में पानी टॉवर का निर्माण कराया गया। इसके साथ ही पाइप लाइन का विस्तार भी वहां करना था। विभागीय अधिकारियों की मिली भगत से संवेदक ने नयागांव में जल मीनार तो बनवा दिया लेकिन घनी आबादी वाले क्षेत्र में पाइप लाइन नहीं विछाया। जिससे जल मीनार होने के बावजूद इसका लाभ वहां के ग्रामीणों को नहीं मिल पा रहा है। जबकि मुख्यमंत्री के सात निश्चय योजना के अंतर्गत हर घर को नल का जल पहुंचाना है। बताया जाता है कि पंचायत में घनी आबादी वाले मुख्य सड़क पर पीसीसी ढलाई है। जिसके वजह से संवेदक सड़क को तोड़कर पाइप बिछाने से परहेज कर रहा है। वहीं संवेदक द्वारा कच्ची सड़क में पाइप डालकर खानापूर्ति कर लिया गया है। लेकिन विभागीय अधिकारियों द्वारा इस पर ध्यान नहीं दिया गया। जिसके वजह से पंचायत के घनी आबादी में रहने वाले ग्रामीणों को जलापूर्ति का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इसको लेकर पंचायत के उपमुखिया उपेंद्र प्रसाद एवं पूर्व उपमुखिया कमलेश कुमार सहित अन्य ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को आवेदन देकर कहा है कि नयागांव पंचायत के मुख्य सड़कों पर पाइप लाइन का विस्तार किया जाए तथा बहेरवागांछी टोला में पाइप लाइन विछाकर वहां जलापूर्ति कराया जाए।

Posted By: Jagran