खुसरूपुर (पटना), संवाद सूत्र। भारतीय रेल को बिहार के एक कार चालक के कारण बड़ा नुकसान झेलना पड़ गया। यह मामला पूर्व मध्‍य रेलवे के अंतर्गत दानापुर मंडल का है, जहां पटना जंक्‍शन और बाढ़ स्‍टेशन के बीच ट्रेनों का परिचालन करीब 20 मिनट तक बाधित रहा। खुसरुपुर स्‍टेशन के पास शुक्रवार को बड़ी लापरवाही का एक मामला सामने आया। दरअसल 03232 दानापुर- राजगीर एक्‍सप्रेस को पास कराने के लिए खुसरुपुर में स्थित रेलवे क्रॉसिंग को बंद किया जाना था। इसके लिए गेटमैन लगातार सायरन बजा रहा था, ताकि गाड़ी वाले अपने वाहन गेट के बाहर ही रोक लें और वह गेट बंद कर सके। लेकिन वाहन चालक मानने को तैयार नहीं हो रहे थे। ट्रेन के आने का समय नजदीक होते देखकर उसने गेट बंद कर दिया।

क्रॉसिंग के बैरियर गेट के नीचे फंस गई कार

इधर, रेलवे क्रॉसिंग का गेट बंद किए जाने के दौरान एक कार चालक ने जबर्दस्‍ती तेजी से निकलकर भागने की कोशिश की, लेकिन उसकी कार का बंपर रेलवे क्रॉसिंग के गेट में फंस गया। इसके कारण रेलवे क्रॉसिंग का गेट ठीक तरीके से बंद नहीं हो सका। इधर, कार के फंसते ही उसका ड्राइवर और उसमें सवार लोग निकलकर कहीं भाग गए। क्रॉसिंग का गेट बंद नहीं होने के कारण ट्रेन आकर होम सिग्‍नल पर खड़ी हो गई। रेलवे की ऑटोमेटिक व्‍यवस्‍था के कारण गेट बंद होने से पहले सिग्‍नल ग्रीन हो ही नहीं सकता। इसके चलते कम से कम दो ट्रेनों के परिचालन पर असर पड़ा।

ट्रेन के लिए सिग्‍नल नहीं मिलने पर मची अफरातफरी

कार के ट्रैक पर फंसने के कारण रेलवे स्टेशन पर अफरातफरी मच गई। चालक के भाग जाने के कारण कार काफी देर तक ट्रैक पर खड़ी रही। स्टेशन प्रबंधक किशलय कौशल ने ट्रैक से कार हटाने के लिए लगातार अनाउंसमेंट भी कराया, पर चालक नहीं आया। मामले को लेकर जीआरपी  और खुसरूपुर थाना की पुलिस मौके पर पहुंची तथा कार को धक्का देकर ट्रैक से बाहर किया। मामले को लेकर स्टेशन प्रबंधक ने स्टेशन डायरी कर मामला जीआरपी के हवाले कर दिया है। बाद में पहुंचे कार चालक को जीआरपी ने हिरासत में लेकर पूछताछ करने में जुटी है।

यह भी पढ़ें- नशे में धुत चालक ने बीच सड़क पर खड़ा कर दिया ट्रैक्‍टर, पुलिस ने भेजा हवालात, कैमूर की घटना