Move to Jagran APP

'चुनाव शुरू होने पर कई और दल I.N.D.I.A. में आएंगे...', CM नीतीश कुमार ने BJP और PM Modi को लेकर कहीं ये बातें

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि लोकसभा चुनाव शुरू होने पर कई और दल आईएनडीआईए में आ जाएंगे। अभी डर से लोग सामने नहीं आ रहे। भाजपा का सूपड़ा साफ हो जाएगा। आईएनडीआईए में अब कौन कहां से लड़ेगा इस पर बात शुरू होगी। मणिपुर प्रकरण के हवाले से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कार्यशैली पर भी मुख्यमंत्री ने तीखी टिप्पणी की।

By Edited By: Prateek JainPublished: Fri, 11 Aug 2023 10:19 PM (IST)Updated: Fri, 11 Aug 2023 10:19 PM (IST)
चुनाव शुरू होने पर कई और दल I.N.D.I.A. में आएंगे: CM नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

राज्य ब्यूरो, पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि लोकसभा चुनाव शुरू होने पर कई और दल आईएनडीआईए में आ जाएंगे। अभी डर से लोग सामने नहीं आ रहे। भाजपा का सूपड़ा साफ हो जाएगा। आईएनडीआईए में अब कौन कहां से लड़ेगा, इस पर बात शुरू होगी।

loksabha election banner

मणिपुर प्रकरण के हवाले से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कार्यशैली पर भी मुख्यमंत्री ने तीखी टिप्पणी की। उन्होंने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं देने पर भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा।

अविश्वास प्रस्ताव पर पीएम के भाषण पर बोले सीएम

संसद में विपक्ष द्वारा केंद्र सरकार के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के वक्तव्य पर टिप्पणी करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि वह हर चीज को अपने ढंग से बोलते हैं, जहां (मणिपुर) घटना हुई, वहां के बारे में नहीं कहा गया। जो काम करना चाहिए वह नहीं हो रहा।

संसद चलता रहता है और वे बाहर घूमते रहते हैं। पहले ऐसा नहीं होता था। हमने अटल बिहारी वाजपेयी के साथ काम किया है। सभी लोग संसद में मौजूद रहते थे। विपक्ष को तो यह अधिकार है कि वह किसी समस्या को उठाए।

नीतीश ने कहा कि दरअसल केंद्र को इस बात की परेशानी है कि विपक्ष की इतनी पार्टियां एकजुट हो रही हैं। वे परेशान हो रहे हैं।

चुनाव शुरू होने पर आईएनडीआईए में कई और दल आएंगे। अभी इनके डर से लोग नहीं आ रहे हैं। विकास का कोई भी काम नहीं हो रहा। लोगों को भी लगता है कि काम नहीं हो रहा, सब कुछ प्रचार-प्रसार में है।

अगले चुनाव में बिहार से भाजपा समाप्त हो जाएगी: नीतीश

उन्होंने कहा कि हम कभी मुख्यमंत्री बनना नहीं चाहते थे। अटल बिहारी वाजपेयी ही कहते थे कि इसी को बनना है। कहा, हम तो देश और राज्य के हित में काम कर रहे।

नीतीश कुमार से जब पूछा गया कि क्या अगले चुनाव में बिहार से भाजपा समाप्त हो जाएगी? इस पर उन्होंने कहा -बिल्कुल, हां। पूछा, 2005 के चुनाव में हमलोगों की संख्या क्या थी और भाजपा को कितना मिला था? वर्ष 2010 के चुनाव में हमलोगों को 118 आया था। दूसरे को कितना आया? पिछले विधानसभा चुनाव में तो हमलोगों को हराने के लिए काम किया गया।

इस बार चुनाव होगा तो पता चल जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिल जाता तो कितना बेहतर हो जाता। सब को पता है, बिहार को कितना मदद किए हैं? यहां तो हमलोगों ने अपने स्तर पर काम किया है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.