सिवान, जागरण संवाददाता।  मुफस्सिल थाना क्षेत्र के खालिसपुर स्थित एक मस्जिद में बीती रात बदमाशों ने एक मौलवी की गर्दन काट कर हत्या कर दी। घटना की जानकारी शुक्रवार की सुबह लोगों को उस समय हुई जब मस्जिद में सफाई करने के लिए कर्मी पहुंचा। मौलवी का शव देख उसने शोर मचाया तब आसपास लोग एकत्रित हुए और घटना की जानकारी पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। मृतक की पहचान स्थानीय निवासी सफी अहमद के रूप में हुई। 

मस्जिद में ही सोते थे मौलवी

जानकारी के अनुसार रात्रि में गर्मी होने के कारण नमाज पढ़ने के बाद मौलवी मस्जिद की छत पर सोने चले गए थे,  समझा जाता है कि देर रात गर्दन काटकर उनकी हत्‍या कर दी गई। वहीं थानाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह ने बताया कि जांच में यह पता चला है कि सफी अहमद का गांव में ही कुछ लोगों के साथ पारिवारिक विवाद चल रहा था। आवेदन मिलने के बाद स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।

पटीदारों से चल रहा था विवाद 

बताया गया है कि मौलवी सफी अहमद का प‍टीदारों से विवाद चल रहा था। इस कारण उनके हिस्‍से एक ही कमरा था। वे अपने भाइयों के साथ संयुक्‍त घर में रहते थे। कुछ दिन पहले उन्‍हें दो दिन के लिए कमरा खाली करने को कहा गया। लेकिन दो दिन बाद जब उन्‍होंने कमरे में जाना चाहा तो उसमें ताला बंद था। कहा गया कि यह नहीं खुलेगा। इसका विरोध करने पर उनके बेटे को जान से मारने की धमकी दी गई। मामला पंचायत में भी गया। लेकिन पंचायत की बात भी उनलोगों ने नहीं मानी। इसकी एफआइआर उन्‍होंने दर्ज कराई थी। इधर एक ही कमरा होने के कारण बेटा और परिवार उसमें रहता था। मौलवी मस्जिद में ही सोते थे। अलसुबह चाकू से वार कर उनकी हत्‍या कर दी गई।  

 

Edited By: Vyas Chandra