बाढ़ (पटना), संवाद सहयोगी। वफादारी की जब बात होती है सबसे ऊपर नाम है कुत्‍ते का। बाढ़ में एक कुत्‍ते ने अपनी वफादारी फिर साबित कर दी। वह भी उस जगह जहां कोई साथ नहीं देता।  जी हां, थाने की हाजत में बंंद अपने मालिक के लिए कुत्‍ते ने पुलिस वालों की मार-दुत्‍कार दोनों सही। लेकिन वह हाजत के पास ही पहुंच जाता। मानों हाल-चाल पूछ रहा हो। उसका मालिक अपराध के कारण हाजत में बंद था। वह तब तक नहीं हटा जबतक उसके मालिक को जेल नहीं भेज दिया गया। मामला व्यापारियों से मोबाइल पर रंगदारी वसूलने वाले तीन अपरा‍धियों की गिरफ्तारी का है। व्‍यापारियों की शिकायत पर पुलिस ने तीनों युवा अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया। बाद में उन्‍हें जेल भेज दिया गया। 

हाजत के बाहर आंसू बहाता रहा कुत्‍ता 

बताया जाता है कि एक अपराधी का कुत्‍ता अपने मालिक की गिरफ्तारी के बाद उसके पीछे-पीछे थाने तक जा पहुंचा। हाजत में जब अपराधियों को बंद कर दिया गया तो वह हाजत के पास खड़ा हो गया। कभी वह मालिक के पास पहुंच जाता तो कभी दूर से उसे देखता। यह पालतू कुत्‍ता लगातार वहीं जमा रहा। पुलिस वाले उसे खदेड़ते तो वह थाने से बाहर चला जाता लेकिन फिर वहीं आ जाता। एक-दो बार उसे डंडे भी लग गए। लेकिन मार खाकर भी वह हटा नहीं। वह हाजत के बाहर बैठकर आंसू बहाता रहा। कुत्‍ते की वफादारी देख पुलिस वाले भी हैरत में थे। बाद में जब रंगदारी के आरोपित को जेल भेजा गया तब कुत्‍ता भी घर लौट गया।   

रंगदारी मांगने वाले 3 युवकों को बाढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार

बाढ़ अनुमंडल में व्यवसायी वर्ग से रंगदारी मांगने के मामले में तीन युवकों को बाढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किया। पिछले कुछ दिनों से बाढ़ अनुमंडल में लगातार असामाजिक तत्वों के द्वारा व्यवसाय करने वाले लोगों से रंगदारी टैक्स की मांग की जा रही थी, जिसकी शिकायत पीड़ित के द्वारा बाढ़ थाने में की गई। बाढ़ थाने की पुलिस मामला दर्ज करने के बाद एक्शन में आई और साक्ष्यों के आधार पर छापेमारी शुरू की गई, जिसके बाद मामले में संलिप्त तीन अभियुक्त अभिषेक कुमार, सुजीत कुमार एवं रितेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार युवकों के पास से 6 मोबाइल और एक बाइक को जब्त कर लिया गया है। बाढ़ के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अरविंद प्रताप सिंह ने बताया कि ताजा मामला सकसोहरा थाना क्षेत्र के बिंद बेलछी चौक के पास की है, जहां 18 जनवरी को कौशल कुमार नामक गिट्टी-बालू व्यवसायी से अपराधियों ने 50 लाख रुपये को रंगदारी की मांग की।  

Edited By: Vyas Chandra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट