Move to Jagran APP

Orai Four Lane Project: गरहां-औराई फोरलेन निर्माण के लिए जमीन अधिग्रहण तेज, करीब 5 लाख लोगों को मिलेगा फायदा

विभाग के उप महाप्रबंधक ने औराई सीओ को इससे अवगत कराया है और वर्तमान में उक्त मार्ग में पड़ने वाले रैयतों का पूरा ब्योरा मांगा है। इसमें मौजावार खाता और खेसरा नंबर समेत पूरी रिपोर्ट देने को कहा है। इसी आधार पर आगे की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। विभाग ने इस कार्य के लिए अमीन और पर्यवेक्षक समेत तीन सदस्यीय टीम की प्रतिनियुक्ति भी कर दी है।

By babul deep Edited By: Rajat Mourya Published: Mon, 10 Jun 2024 03:22 PM (IST)Updated: Mon, 10 Jun 2024 03:22 PM (IST)
गरहां-औराई फोरलेन निर्माण के लिए जमीन अधिग्रहण तेज, करीब 5 लाख लोगों को मिलेगा फायदा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जागरण संवाददाता, मुजफ्फरपुर। गरहां से औराई तक करीब 700 करोड़ रुपये से फोरलेन का निर्माण किया जाना है। इसे लेकर बड़े पैमाने पर भूमि अधिग्रहण की आवश्यकता पड़ेगी। उक्त पथ का निर्माण बिहार स्टेट रोड डेवलपमेंट कारपोरेशन लिमिटेड के द्वारा कराया जा रहा है।

इस मार्ग में बागमती नदी पर एक उच्चस्तरीय पुल का भी निर्माण किया जाना है। विभाग के उप महाप्रबंधक ने औराई सीओ को इससे अवगत कराया है और वर्तमान में उक्त मार्ग में पड़ने वाले रैयतों का पूरा ब्योरा मांगा है। इसमें मौजावार खाता और खेसरा नंबर समेत पूरी रिपोर्ट देने को कहा है। इसी आधार पर आगे की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

विभाग ने इस कार्य के लिए अमीन और पर्यवेक्षक समेत तीन सदस्यीय टीम की प्रतिनियुक्ति भी कर दी है। इससे भी सीओ को अवगत करा दिया गया है। बताया गया कि बागमती नदी की दो मुख्य धारा और एक उपधारा को जोड़ते हुए इस उच्च स्तरीय पुल का निर्माण किया जाएगा। इसके एप्रोच के लिए भी भूमि अधिग्रहण की आवश्यकता पड़ेगी। इससे जुड़ी रिपोर्ट भी सीओ को देने को कहा गया है।

करीब पांच लाख की आबादी को मिलेगा लाभ

बता दें कि यह सड़क गरहां से होते हुए हथौड़ी-अमनौर और बागमती नदी को पार कर औराई में मिलेगी। वर्तमान में औराई से जिला मुख्यालय आने के लिए 55 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती है या फिर चचरी पुल के सहारे आवागमन करना पड़ता है। बारिश के मौसम में यह मार्ग बंद हो जाता है तब घूमकर दूसरे रास्ते से आना पड़ता है। इस पुल के बनने से औराई से जिला मुख्यालय की दूरी 25 किलोमीटर घट जाएगी और करीब पांच लाख की आबादी को लाभ मिलेगा।

जयपुर की निर्माण एजेंसी से हो चुका करार

इस फोरलेन के निर्माण को लेकर जयपुर की निर्माण एजेंसी से करार किया जा चुका है। भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू होने के बाद निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा। विदित हो कि बिहार स्टेट रोड डेवलपमेंट कारपोरेशन के द्वारा सीतामढ़ी-पुपरी- बेनीपट्टी एनएच का भी चौड़ीकरण किया जा रहा है।

पिछले दिनों विभाग के प्रबंध निदेशक ने भी डीएम को पत्र भेजकर इसकी जानकारी दी थी और भूमि अधिग्रहण के कार्य के लिए अपने स्तर से निर्देशित करने का अनुरोध किया था।

ये भी पढ़ें- Modi Cabinet: 'नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में मुसलमानों को...', नीतीश कुमार का नाम लेकर RJD का बड़ा आरोप

ये भी पढ़ें- Lalan Singh Cabinet Minister: ललन सिंह को मंत्री बनाकर PM मोदी ने खेल दिया बड़ा दांव, 20 साल बाद हुआ कुछ ऐसा


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.