Move to Jagran APP

आर्केस्ट्रा पार्टी के चंगुल से मुक्त कराई गई आठ नेपाली लड़कियां

एसएसबी ह्यूमन ट्रेफिकिग प्रभारी इंस्पेक्टर मनोज कुमार शर्मा ने गुप्त सूचना के आधार पर सदल छापेमारी कर नेपाली लड़कियों को आर्केस्ट्रा पार्टी के चंगुल से मुक्त कराया। एंटी ह्युमन ट्रेफिकिग यूनिट टीम ने रक्सौल प्रखंड के सौनाहा बाजार में दो आर्केस्ट्रा संचालकों के ठिकाने पर स्थानीय थाना के सहयोग से छापेमारी किया।

By JagranEdited By: Wed, 02 Mar 2022 06:33 PM (IST)
आर्केस्ट्रा पार्टी के चंगुल से मुक्त कराई गई आठ नेपाली लड़कियां
आर्केस्ट्रा पार्टी के चंगुल से मुक्त कराई गई आठ नेपाली लड़कियां

रक्सौल । एसएसबी ह्यूमन ट्रेफिकिग प्रभारी इंस्पेक्टर मनोज कुमार शर्मा ने गुप्त सूचना के आधार पर सदल छापेमारी कर नेपाली लड़कियों को आर्केस्ट्रा पार्टी के चंगुल से मुक्त कराया। एंटी ह्युमन ट्रेफिकिग यूनिट टीम ने रक्सौल प्रखंड के सौनाहा बाजार में दो आर्केस्ट्रा संचालकों के ठिकाने पर स्थानीय थाना के सहयोग से छापेमारी किया। उक्त स्थल से आठ नेपाली लड़कियों को

उनलोगों के चुंगल से मुक्त कराया। जिसमे चार नाबालिग लड़कियां थीं। एनजीओ रेस्क्यू मिशन फाउंडेशन, चाइल्ड लाइन केयर सब-सेंटर रक्सौल तथा पलनवा थाना पुलिस और

एएचटीयू टीम रक्सौल (मानव तस्करी रोधी ईकाई) ने लड़कियों की काउंसिलिग की। जिसमें बताया कि शादी के बहाने से उसके साथ शारीरिक शोषण किया गया। किसी ने कहा कि हमें अच्छे जीवन और लाइफ स्टाइल का झांसा दिया गया। पिछले दो माह से अपने माता-पिता और परिवार से मिलने के लिए बेचैन हैं। लेकिन संचालकों ने धमकी देकर घर नहीं जाने दिया। एनजीओ रेस्क्यू फाउंडेशन के निदेशक वीरेन्द्र सिंह ने कहा कि आर्केस्ट्रा के नाम पर लड़कियों के साथ बहुत शारीरिक शोषण किया जाता है। इसको रोकने के लिए नियमित अभियान चलेगा। अवैध रूप से कार्य करने वालों को पलनवा थाना को सौंप दिया गया। इस छापेमारी दल में पलनवा थाना प्रभारी उप निरीक्षक प्रभाकर पाठक, एएचटीयू टीम के उप निरीक्षक नेहा सिंह, सहायक उप निरीक्षक परिश्वर मुशाहारी, मुख्य आरक्षक कुलदीप कुमार, मुख्य आरक्षक राम कुमार, महिला आरक्षी ना•ारीन बानो व् आरक्षी रामलाल बाज्या, रेस्क्यू फाउंडेशन से दिलीप कुमार, अक्षय पाण्डेय, चाइल्ड लाइन केयर से पवन कुमार, किरण वर्मा, नवीन कुमार, अभिषेक कुमार, उप निरीक्षक उदय कुमार पासवान,आरक्षी रजनी, काजल आदि लोग शामिल थे।