Move to Jagran APP

Bihar Bijli Deferment Charges: डिफरमेंट चार्ज कटने से उपभोक्ता परेशान, विभाग नहीं दे रहा जवाब

उपभोक्ता गुड्डू शर्मा ने बताया कि महीने की चार से 10 तारीख तक बिजली बिल बनने के साथ डिफरमेंट चार्ज का पैसा कटने का मैसेज आ जाता था लेकिन इस बार चुनाव खत्म होते ही डिफरमेंट चार्ज के नाम पर कटौती का मैसेज लोगों के मोबाइल पर आने लगा। उसके बाद बिजली कटने लगी। रिचार्ज भी सही से नहीं हो पा रहा है।

By Gopal Tiwari Edited By: Rajat Mourya Thu, 23 May 2024 03:29 PM (IST)
डिफरमेंट चार्ज कटने से उपभोक्ता परेशान, विभाग नहीं दे रहा जवाब

जागरण संवाददाता, मुजफ्फरपुर। बिजली विभाग के अजब-गजब कारनामों से उपभोक्ता परेशान हो गए हैं। स्मार्ट मीटर लगने के बाद जिले में डिफरमेंट चार्ज के नाम पर पैसा काटने का बड़ा खेल चल रहा है। चुनाव खत्म होने के अगले ही दिन से डिफरमेंट चार्ज के नाम पर पैसा कटने की बात लोगों की समझ में आने लगी है।

उपभोक्ता गुड्डू शर्मा ने बताया कि महीने की चार से 10 तारीख तक बिजली बिल बनने के साथ डिफरमेंट चार्ज का पैसा कटने का मैसेज आ जाता था, लेकिन इस बार चुनाव खत्म होते ही डिफरमेंट चार्ज के नाम पर कटौती का मैसेज लोगों के मोबाइल पर आने लगा। उसके बाद बिजली कटने लगी। रिचार्ज भी सही से नहीं हो पा रहा है।

बुधवार को सैकड़ों उपभोक्ता रामदयालु, माड़ीपुर, कल्याणी बिजली कार्यालय शिकायत लेकर पहुंचे और कार्यालय में मौजूद कर्मियों को खरी-खोटी सुनाई।

ये भी पढ़ें- Bihar Prepaid Meter Recharge: स्मार्ट प्री-पेड मीटर कराएं रिचार्ज, नहीं तो कट जाएगी बिजली

एक बिजली कर्मी ने बताया कि चुनाव बाद डिफरमेंट चार्ज कटने लगा है। हंगामा होने के चलते चुनाव के दौरान डिफरमेंट चार्ज नहीं काटा गया।

उपभोक्ता मृत्युंजय कुमार ने बताया शाम को बिहार सुगम एप से 500 रुपये का रिचार्ज किया, सक्सेस नहीं होने पर बिजली कट गई। दूसरे को बोल फिर से 500 का रिचार्ज कराया तब बिजली आई। अघोरिया बाजार सेक्शन के एक मानव बल ने रिचार्ज का पैसा मीटर में शो नहीं करने की शिकायत विद्युत कार्यपालक अभियंता से की।

ये भी पढ़ें- Bihar Bijli Bill: बिजली बिल बनने के 10 दिनों बाद कटने लगा डिफरमेंट चार्ज, उपभोक्ताओं के उड़े होश