मधुबनी/ दरभंगा [जागरण टीम]। बिहार में फिर एक मीडियाकर्मी को गेाली मार दी गई। ताजा मामला दैनिक जागरण से जुड़े पत्रकार और मधुबनी जिले के पंडौल थाने के हाटी निवासी प्रदीप मंडल (24) को रविवार रात बाइक सवार अपराधियों द्वारा गोली मारने का है। उन्हें दरभंगा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (डीएमसीएच) में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि घटना का कारण शराब के अवैध धंधेबाजों के खिलाफ खबरें लिखना है। पत्रकार की खबरों के कारण जेल गए शराब कारोबारियों ने जमानत पर छूटने के बाद उन्‍हें गोली मार दी।
विदित हो कि बिहार में बीते कुछ सालों के दौरान कई मीडियाकर्मियों पर हमले किए गए हैं। इनमें सिवान के राजदेव रंजन सहित कुछ की तो हत्‍या तक कर दी गई है। बताया जा रहा है कि प्रदीप को भी हत्‍या की नीयत से गोली मारी गई। हालांकि, घटना का कारण फिलहाल ज्ञात नहीं है।
गांव लौटते वक्‍त मार दी गोली
मिली जानकारी के अनुसार प्रदीप पंडौल प्रखंड मुख्यालय से हाटी गांव जा रहे थे। इसी दौरान सरिसवपाही गांव में रामेश्वर झा के घर के पास बाइक सवार दो बदमाशों ने उन्‍हें गोली मार दी। घायल प्रदीप कुछ देर बाद अपने पड़ोसी जीवनाथ झा की दुकान के पास पहुंचे और अस्पताल ले जाने के लिए मदद मांगने लगे।
ऑपरेशन संपन्‍न, हालत स्थिर
शोर सुनकर लोग जुटे। इसके बाद प्रदीप को पंडौल के प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र लाया गया, जहां से उन्‍हें डीएमसीएच रेफर कर दिया गया। डीएमसीएच के चिकित्सक डॉ. डीसी कर्ण ने बताया कि उनकी हालत खतरे से बाहर, लेकिन स्थिर बनी हुई है।
अपराधी चिह्नित, तलाश जारी
इधर, मधुबनी के एसपी डॉ. सत्य प्रकाश के नेतृत्व में सदर इंस्पेक्टर व कई  थानों की पुलिस द्वारा रविवार रात भर छापेमारी की गई है। सोमवार सुबह सदर एएसपी कामिनी बाला ने बताया कि दो अपराधी चिह्नित कर लिए गए हैं। इस घटना में शामिल होने के संदेह में अवैध शराब कारोबारी सुशील साह और अशोक कामत की पुलिस तलाश कर रही है। जख्मी पत्रकार के बयान पर दर्ज एफआइआर में उक्‍त दाेनों को नामजद किया गया है। दोनों का आपराधिक इतिहास रहा है। दोनों शराब के कारोबार से भी जुड़े हैं तथा कुछ ही दिन पहले जमानत पर जेल से बाहर निकले हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप