मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। बिहार में उद्योग के लिए बेहतर आधारभूत संरचना है। सड़क, बिजली, पानी, कृषि  में बिहार ने कई राज्यों को पीछे छोड़ा है। उद्योग के क्षेत्र में पीछे रह गए हैं। चुनौती का काम मिला है। बिहार को इस क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाना है। राज्य को इथेनॉल का हब बनाना है। पेट्रोल में मिङ्क्षक्सग के कारण इथेनॉल की मांग बढ़ी है। बड़ी कंपनियां संपर्क कर रही हैं। इथेनॉल राज्य की बंद चीनी मिलों के लिए संजीवनी होगी। ये बातें राज्य के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने गुरुवार देर रात परिसदन में प्रेस वार्ता में कहीं। उन्होंने कहा, गन्ने के अलावा मक्का से भी इथेनॉल का निर्माण होता है।  इससे बिहार की तस्वीर और तकदीर बदलेगी। उन्होंने कहा, मुजफ्फरपुर के भी औद्योगिक चमक को वापस लाएंगे। यह जहां छूट गया था वहां से आगे ले जाएंगे। 

उद्योग मंत्री ने कहा, केंद्र सरकार के सभी मंत्रालयों का सहयोग मिल रहा है। पीएम नरेंद्र मोदी का आशीर्वाद है। मुख्यमंत्री के अनुभव के साथ हम जैसे युवा मंत्री बिहार को आगे ले जाएंगे। अब उद्योग के क्षेत्र में भी आत्मनिर्भर बिहार बनेगा। उन्होंने कहा, मुजफ्फरपुर में बियाडा के पास काफी जमीन है। जिस मकसद के लिए जमीन दी गई है वह पूरा हो रहा या नहीं यह सरकार देखेगी। इससे पहले मंत्री का परिसदन पहुंचने पर भाजपा नेता देवांशु किशोर, राजीव कुमार, अनिल कुमार आदि ने स्वागत किया। 

यह भी पढ़ें: Muzaffarpur: कटरा जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपित सीतामढ़ी से गिरफ्तार, पांच लोगों की मौत का है जिम्मेदार

यह भी पढ़ें: मार्च में अवकाश व हड़ताल के कारण 11 दिन बंद रहेंगे बैंक, अंतिम सप्ताह में बैंकिंग कामकाज निपटाने में होगी परेशानी

यह भी पढ़ें: Sitamarhi: व्‍यवसायी की हत्‍या के बाद शात‍िर ने फेंका पर्चा, ल‍िखा- 'जो रंगदारी नहीं देगा उसका भी यही हाल होगा...'

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021