मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। कटरा थाना क्षेत्र के दरगाह में जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत मामले का मुख्य आरोपित प्रमोद दास गुरुवार की रात सीतामढ़ी के पुपरी से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इसकी पुष्टि एसएसपी जयंत कांत ने की। उन्होंने बताया कि एक और आरोपित मुकेश सिंह अब भी फरार है जिसकी तलाश में छापेमारी की जा रही है। 

बता दें कि दरगाह में दंपती की मौत का मामला 18 फरवरी को सामने आया था। उसी दिन जहरीली शराब से मौत होने की चर्चा जोरों पर रही। इसके बाद पुलिस प्रशासन चौकस हुआ और एसएसपी समेत पूरा अमला दरगाह पहुंचा। वहां सभी ने बीमारी से मौत की बात बताई। इसके दूसरे दिन 19 फरवरी को तीन और लोगों की मौत हो गई। तब जहरीली शराब से मौत की सूचना को बल मिला, लेकिन मृतक के स्वजन मौत का कारण बीमारी ही बताते रहे। तीसरे दिन जब राजनीतिक दल के नेताओं ने वहां का दौरा किया तो मृतकों के स्वजन ने सच्चाई कबूल की।

 बताया कि सारी मौतें जहरीली शराब पीने से हुई है। सबने बताया कि प्रमोद दास ने शराब बनाकर लोगों को पीने के लिए दी थी। जहरीली शराब पीने से सबकी तबीयत बिगडऩे लगी और एक के बाद एक करते पांच लोगों की मौत हो गई। इसके बाद एसएसपी ने थानाध्यक्ष को निलंबित करते हुए सर्किल इंस्पेक्टर को लाइन हाजिर कर दिया। लोगों का कहना था कि कई बार पुलिस को सूचना देने के बाद भी पुलिस पकडऩे नहीं पहुंचती थी। वहीं, धंधेबाज सीना तान कर कहते फिरते थे कि इसके लिए थाने को मोटी रकम दी जा रही है। इलाके के एक मुखिया ने दरगाह में अवैध शराब बनाने की सूचना भी दी थी। लेकिन, इस दिशा में पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। 

यह भी पढ़ें: Muzaffarpur: कटरा जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपित सीतामढ़ी से गिरफ्तार, पांच लोगों की मौत का है जिम्मेदार

यह भी पढ़ें: मार्च में अवकाश व हड़ताल के कारण 11 दिन बंद रहेंगे बैंक, अंतिम सप्ताह में बैंकिंग कामकाज निपटाने में होगी परेशानी

यह भी पढ़ें: Sitamarhi: व्‍यवसायी की हत्‍या के बाद शात‍िर ने फेंका पर्चा, ल‍िखा- 'जो रंगदारी नहीं देगा उसका भी यही हाल होगा...'

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप