Move to Jagran APP

55 साल के दरिंदे की हैवानियत का शिकार हुई 10 वर्षीय मासूम बच्ची, अस्पताल में लड़ रही जिंदगी और मौत की जंग

बिहार के मोतिहारी में 10 साल की एक बच्ची 55 साल के एक अधेड़ दरिंदे की हैवानियत का शिकार हो गई। बच्ची को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। उसके शरीर पर जख्म के गंभीर निशान हैं। जख्म इतने गहरे हैं कि वह बोलने की भी स्थिति में नहीं है। चिकित्सकों ने उसकी स्थिति को गंभीर लेकिन स्थिर बताया है।

By Sushil Verma Edited By: Mohit Tripathi Sun, 12 May 2024 05:42 PM (IST)
दुष्कर्म का शिकार मासूम बच्ची की हालत गंभीर। (सांकेतिक फोटो)

संवाद सूत्र, मोतिहारी। बिहार के मोतिहारी में 10 साल की एक मासूम बच्ची अपने ही गांव के 55 साल के एक अधेड़ की हैवानियत का शिकार हो गई। मासूम को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। उसके शरीर पर जख्म के गंभीर निशान हैं। जख्म इतने गहरे हैं कि वह बोलने की भी स्थिति में नहीं है। चिकित्सकों ने उसकी स्थिति को गंभीर, लेकिन स्थिर बताया है।

पुलिस ने मामले में नामजद आरोपित 55 साल के अधेड़ शख्स को गिरफ्तार करके न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। पुलिस मामले में मेडिकल रिपोर्ट और अन्य साक्ष्य एकत्र करके स्पीडी ट्रायल कराने की तैयारी कर रही है।

भरोसे में लेकर बच्ची को घर से ले गया था अधेड़

महिला थाना में एफआईआर दर्ज करने के लिए पुलिस को दिए आवेदन में पीड़िता के पिता ने बताया कि आरोपी अधेड़ उनका पड़ोसी है। उसकी उम्र भी 55 साल है। पड़ोसी होने के नाते उसने बच्ची को अपने झांसे में ले लिया।

परिवार के लोगों की नजर से बचाते हुए उसे फुस की एक झोपड़ी में ले गया। झोपड़ी में ले जाने के बाद दरिंदे ने मासूम बच्ची के साथ अवैध संबंध स्थापित किया। बच्ची के रोने-चिल्लाने की आवाज पर, जब स्वजन पहुंचे तो वह भाग निकला।

स्वजनों ने घटना की जानकारी तत्काल स्थानीय थाना को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता को इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा। साथ ही आरोपित को तत्काल गिरफ्तार कर लिया।

महिला थानाध्यक्ष ने क्या कहा?

स्थानीय महिला थाना की थानाध्यक्ष ने बताया कि पिता के बयान पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है। बच्ची का अस्पताल में इलाज चल रहा है। उसकी हालत गंभीर है। उसके स्वस्थ होने के बाद कोर्ट में उसका बयान कराया जाएगा। आरोपित स्पीडी ट्रायल के तहत सजा दिलाने की प्रक्रिया में पुलिस लगी है।

एसपी बोले- कराया जाएगा स्पीडी ट्रायल 

पूर्वी चंपारण पुलिस अधीक्षक कांतेश कुमार मिश्र ने कहा कि घटना गंभीर है। आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। इस सिलसिले में संबंधित थाना की पुलिस को जरूरी निर्देश दिए गए हैं। साक्ष्य एकत्र कर दोषी के विरुद्ध स्पीडी ट्रायल कराया जाएगा। इसके लिए पुलिस तत्परता के साथ साक्ष्य एकत्र कर रही है।

यह भी पढ़ें: Bihar Crime News: देवरानी-जेठानी के झगड़े में गड़ासा लेकर पहुंचा देवर, धारदार हथियार से काट डाली भाभी की गर्दन

Bihar Politics: 'नौकरियां तो नीतीश ने दी, तेजस्वी तो...', क्रेडिट की जंग में कूदे बिहार CM के दोस्त, कह दी ऐसी बात